HomeCourseElectrical Engineer Kya Hota Hai | इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बने

Electrical Engineer Kya Hota Hai | इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बने

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने जा रहे हैं कि Electrical Engineer Kya Hota Hai तथा Electrical Engineer Kaise Bane? इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने के लिए योग्यता? इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की फीस कितनी होती है? Electrical Engineer Ki Salary Kitni Hoti Hai? Electrical Engineering Ka Scope In Hindi?

जैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि सभी अपनी पढ़ाई को लेकर कितने सजग रहते हैं अपने कैरियर को बनाने के लिए सभी अलग-अलग तरह का कोर्स करते हैं| कुछ स्टूडेंट्स को यह नहीं पता कि इंजीनियर क्या है क्या होता है कैसे आप इंजीनियर बन सकते हैं| इस ब्लॉक में हम आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के बारे में जानकारी देंगे इलेक्ट्रिसिटी के अंदर छोटे-छोटे उपकरण आते हैं| इनका अध्ययन इलेक्ट्रिकल इंजीनियर करता है|

जो इलेक्ट्रिसिटी से संबंधित समस्याओं को दूर करता है उसे इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कहते हैं| जैसे आप जानते हैं कि आज के टाइम में सभी काम मशीनों द्वारा किए जाते हैं मशीनों के बिना हमारे जीवन का कोई भी काम संभव नहीं है| बहुत सारे उपकरण है ज्यादा उपकरण ऐसे है जो बिजली की सहायता से जलते हैं,जिनकी सहायता से हम अपने काम को आसानी से तथा कम समय में कर सकते हैं, यह एक ऐसा कोर्स है जिसके अंतर्गत पूरे तकनीकी तथा विज्ञान की जानकारी दी जाती है|

Electrical Engineer Kaise Bane

How To Become A Electrical Engineer In Hindi

Electrical Engineer Kaise Baneजैसा कि आप जानते हैं आज जो भी छोटे-छोटे उपकरण बन रहे हैं जो भी इलेक्ट्रिकल से बनी हुई चीज़े है, यह सभी इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के कारण ही संभव है| इलेक्ट्रिकल इंजीनियर नए नए आविष्कार तथा नई चीजों को बनाते हैं| आज के समय में एक छोटे से छोटे माइक्रोफोन बल्ब से लेकर बड़ेC तक सभी Electrical Engineer के कारण ही संभव है|

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनना चाहते हैं तो हम आपको बता दें आप 3 तरीके से इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बन सकते हैं, परंतु इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने के लिए आपको कम से कम 10 वीं तो पास करनी ही होती है, क्योंकि दसवीं के पश्चात आप ITI पोस्ट कर सकते हैं, और 10वी कक्षा के पश्चात आप Diploma In Electrical Engineering कर सकते हैं, और यदि आप Graduation In Electrical Engineering करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको पहले 12वीं कक्षा पास करने होती है, तब जाकर आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन कर पाते हैं, यह तीनों कोर्स अपनी एक अलग महत्वता रखते हैं आगे हम विस्तार से आपको Eligibility Of Electrical Engineer बताते हैं।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने के लिए योग्यता

Eligibility Criteria for Electrical engineer In Hindi

किसी भी तरह का कोर्स करने के लिए सभी Courses का अपना अलग एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया होता है| इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कोर्स को करने के लिए 10th कक्षा के बाद भी  आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं|

अगर छात्र इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग 10th कक्षा के बाद करना चाहते है तो वह डिप्लोमा कोर्स में 10th कक्षा के बाद भी diploma course में एडमिशन ले सकते हैं|  अगर कोई भी छात्र दसवीं कक्षा करने के बाद डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेता है तो यह कोर्स 3 साल का रहेगा| इस कोर्स में आपको इलेक्ट्रिकल कंपनीज में मोटर कैसे बनाई जाती है| इन सब की ट्रेनिंग दी जाती है| अगर आप दसवीं कक्षा के बाद इलेक्ट्रिकल डिप्लोमा करते हैं तो आपको कंप्लीट जानकारी मिल जाएगी |और  पूरी अच्छी तरह से इस कोर्स के बारे में सीख पाओगे |

दसवीं कक्षा के बाद यह कोर्स 3 साल का होता है, और इस कोर्स में 6 सेमेस्टर होते हैं परंतु इस कोर्स को करने का फायदा तभी है जब आप इसे मन लगाकर करें।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने के लिए आप डिग्री कोर्स कर सकते हैं जो की 12वीं कक्षा के पश्चात 4 साल का होता है और यह कोर्स आफ प्राइवेट तथा सरकारी दोनों ही कॉलेज से कर सकते हैं इस कोर्स को करने के बाद आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की ग्रेजुएशन की डिग्री मिल जाती है, और फिर आपके लिए नौकरी मिलना और भी ज्यादा आसान हो जाता है।

परंतु इस कोर्स को करने के लिए 12वीं कक्षा में आपको कम से कम 50% लाने होते हैं, और बारहवीं कक्षा भी आपको नॉन मेडिकल से बात करनी होती है, मतलब की 12वीं कक्षा में आपके पास इस केमिस्ट्री और मैथ यह सब्जेक्ट होने चाहिए तभी आप इसके पश्चात Bachelor Of Electrical Engineering कर सकते हैं।

और इसके पश्चात आपके पास बैचलर ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करने के लिए एक तरीका और है, जो कि यह है कि आप Diploma In Electrical Engineering करने के पश्चात Bachelor Of Electrical Engineering कर सकते हैं, यदि आप डिप्लोमा के बाद इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने के लिए बैचलर कोर्स करते हैं, तो फिर आपको बैचलर कोर्स सिर्फ 3 साल का ही करना होता है और इसके पश्चात आपको बहुत ज्यादा नॉलेज भी हो जाती है, क्योंकि 3 साल की नॉलेज तो आपको डिप्लोमा में दी जाती हैं, और यदि आप आगे 3 साल ग्रेजुएशन कर लेते हैं तो फिर आपको बहुत ही ज्यादा नॉलेज हो जाती है, और इसके पश्चात आप को बड़ी ही आसानी से नौकरी भी मिल जाती हैँ।

Top college list for Electrical Engineering In Hindi

वैसे तो आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग किसी भी प्राइवेट कॉलेज से भी कर सकते हैं परंतु प्राइवेट कॉलेज में फीस बहुत ज्यादा होती है, इसीलिए ज्यादातर विद्यार्थी 12वीं कक्षा के पश्चात एग्जाम को पास करते हैं और फिर IIT – Indian Institute Of Technology मैं दाखिला लेते हैं, परंतु आईआईटी में दाखिला लेना कोई आम बात नहीं हैं।

इसके लिए आपको Gate Enterence Exam पास करना होता है, जो कि बहुत ही ज्यादा कठिन होता है, हर साल लाखों बच्चे इस एग्जाम के लिए आवेदन तो जरूर देते हैं परंतु कामयाब केवल 700 से 800 बच्चे ही बड़ी मुश्किल से हो पाते हैं, क्योंकि यह एग्जाम सबसे मुश्किल एग्जाम में से एक माना जाता है और इससे पास करने के लिए हमें बहुत ही ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। अब हम आपको वह आईआईटी कॉलेजेस बता देते हैं, जो कि भारत में स्थित है और आप एंट्रेंस एग्जाम पास करके इन में एडमिशन ले सकते हैं।

1) IIT Bombay

2) IIT Kanpur

3) IIT Delhi

4) IIT Roorkee

5) IIT Madras

6) IIT Guwahati

7) BITS Pilani

8) MNNIT Allahabad

9) IIT Kharagpur

Carrier after Electrical Engineer course In Hindi

इस course को करने  के बाद बहुत सी कंपनी  में आप नौकरी प्राप्त कर सकते हैं| क्योंकि सभी कंपनी में सभी जगह पर इलेक्ट्रिशियन की जरूरत होती है बिजली के  बिना कहीं पर भी कोई काम नहीं होता| इलेक्ट्रीशियन के काम को करने वाले की बहुत ज्यादा वैल्यू है|

निम्न जगहों पर इलेक्ट्रीशियन इंजीनियर कार्य कर  शक्ति है|

1)Oil and Gas

2) Railway

3)Telecom

4) Aerospace

5) Construction

6) Automotive

7) Electronics

8) Power Generation

9) Marine

10) Material and metals

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग कोर्स को करने के बाद आप विदेश तथा भारत में भी काफी अच्छी जॉब प्राप्त कर सकते हैं| जैसा कि आप जानते हैं कि इलेक्ट्रिकल कोर्स को करने के बाद विदेश में भी नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं|

इसके अतिरिक्त आफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करने के पश्चात सरकारी नौकरी की तैयारी भी कर सकते हैं, क्योंकि बहुत से सरकारी कंपनियों में भी इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की वैकेंसी निकलती रहती है, और यदि आप सरकारी नौकरी के लिए तैयारी करना चाहते हैं तो वह भी आप कर सकते हैं।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की फीस कितनी होती है

Fees Of Electrical Engineering In Hindi

यदि हम बात करें कि इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की फीस कितनी होती है तो हम आपको बता दें इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की फीस कॉलेज के ऊपर भी निर्भर करती है कि कॉलेज किस प्रकार का है यदि आप किसी अच्छे बड़े कॉलेज से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करते हैं तो इसकी अलग-अलग फीस हो सकती है जैसे कि यदि आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करते हैं तो आपकी ₹35000 से लेकर ₹60000 तक फीस हो सकती है

यदि आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में किसी प्राइवेट कॉलेज से बीटेक करते हैं तो आप की 1 साल की फीस ₹75000 से लेकर ₹120000 तक हो सकती है और यदि आप किसी बड़ी यूनिवर्सिटी से या कोर्स करते हैं तो आपकी फीस ₹200000 तक भी हो सकती हैं।

जैसा कि हमने आपको बताया ही है कि कॉलेज की फीस हमेशा कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है कि कॉलेज आपको किस प्रकार की सुविधाएं प्रदान कर रहा है इसीलिए कोई इसकी सुविधाओं को देखकर ही आप कॉलेज का चयन करें कपिल प्राइवेट कॉलेज तो बहुत है जो आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करा देते हैं परंतु बाद में आपको नौकरी मिलने में बहुत ज्यादा परेशानी होती है इसीलिए सोच समझकर ही किसी अच्छे कॉलेज का चयन करें।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की सैलेरी कितनी होती है –  Salary Of Electrical Engineer in Hindi

यदि हम बात करें कि इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने पर आपको कितनी सैलरी मिल सकती है तो हम आपको बता दें, कि यह आपके कोर्स के ऊपर भी निर्भर करता है कि आपने कोर्स कौनसा किया है यदि आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करते हैं। तो आपको शुरुआत में ₹12000 से लेकर ₹18000 की नौकरी मिल सकती है इसके अतिरिक्त बहुत सी ऐसी कंपनियां भी हैं, जो आपको 20000 से ₹25000 की नौकरी भी दे सकती हैं परंतु वैसे कंपनियों मैं नौकरी पाने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी होती है, और जो कुछ भी आप को पढ़ाया जाता है मैं आपको अच्छे से सीखना होता है।

और यदि आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करते हैं, मतलब कि आप यदि आईआईटीएफ बी टेक करते हैं तो आपको शुरुआत में बहुत ही ज्यादा अच्छी सैलरी मिल सकती है, आप यह मान लीजिए कि आप को शुरुआत में ₹25000 से लेकर ₹55000 तक की नौकरी भी आसानी से मिल सकती है। परंतु अच्छी नौकरी मिलना आपके ऊपर निर्भर करती है, कि आपको नॉलेज किस हिसाब से है यदि आपको नॉलेज अच्छी है। और आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के बारे में हर एक चीज अच्छे से पता है तो आपको आसानी से नौकरी मिल जाती है।

Recruiters Company for Electrical & Electronics Engineer

 इलेक्ट्रॉनिक्स का इलेक्ट्रिकल में डिप्लोमा करने के बाद निम्न कंपनियों है जो रिक्रूटमेंट करती हैं|

 Private company –

1) Tata steel and power limited

2) Tata motors

3)Jenith Construction

4) Jindal steel and power limited

5) Omega elivator

Government Company

1)  Bharat heavy Electrical limited

2) Steel authority Of India limited

3) NSPCL

4) State electricity board

5) Indian Space research organization

6) National Thermal power

Courses description for Electrical Engineering

 इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बहुत से कोर्स कराए जाते हैं |जिनको करने के बाद छात्र अपना बेहतर कर्रिएर बना सकते हैं|

1) Engineering modeling and problem solving

2) Engineering design

3) Introduction to electrical system

4) Indroduction to software engineering

5) Introduction to computer system

6) Advance calculus and Linear alzebra

Conclusion –

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल बहुत ही पसंद आया होगा, इस आर्टिकल के माध्यम की सहायता से हमने आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के बारे में पूरा ज्ञान दिया है, जैसे कि Electrical Engineer Kya Hai, Electrical Engineer Kaise Bane, Electrical Engineer Banne Ke Liye Kya Kare, Electrical Engineer ki Salary Kitni Hoti Hai तथा Electrical Engineeeing Ki Fees Kitni Hoti Hai यदि आप भी आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनने से संबंधित कोई प्रश्न हम से पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन के द्वारा पूछ सकते हैं, हम समय मिलते ही उस प्रश्न का उत्तर आपको जरूर देंगे।

इन पोस्ट को भी पढे :- 

Rate this post
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

close button