M Pharma क्या है | M Pharma कैसे कर सकते है | M.Pharma के लिए एलिजिबिलिटी

0

आज के इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको जानकारी देंगे कि M.Pharma Kya Hai तथा  M.Pharma Course Kaise Kare और  M.Pharma Course Karne Ke Baad Kya Kare इसके साथ-साथ हम आपको यह भी बताएंगे कि M.Pharma Course Ke Baad Kitni Salary Mil Sakti Hai तथा M.Pharma Course Ki Fees Kitni Hoti Hai

आज के टाइम में हर कोई अपने कैरियर को बेहतर बनाने के लिए अलग-अलग तरह के कोर्स करते हैं| हर कोई यही चाहता है कि वह कोई ऐसा कोर्स करें जिसे करने के बाद उसका कर्रिएर बेहतर बन सके तथा अच्छी जॉब मिल सके| तथा अच्छे पैसे कमा सकें|

अगर कोई छात्र फार्मेसी फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहता है| तो उनके लिए यह एम फार्मेसी बहुत ही बेहतर ऑप्शन है|  एम फार्मेसी करने के बाद आप फार्मेसी में मास्टर डिग्री भी हासिल कर सकते हैं|  एम फार्मेसी फार्मेसी  फील्ड का सर्वश्रेष्ठ कोर्स है |

M.Pharma Kya Hai – What Is M.Pharma In Hindi

M pharma Kya Hai M pharma Kaise KareM.Pharma जो की Pharmacy एक साइंस की ब्रांच होती है| जिसमे आपको यह सिखाया जाता है कि दवाइयों का यूज़ कैसे करना है| तथा स्टूडेंट को pharmaceutical ड्रग्स के साथ कैसे डिल करना है| इस कोर्स के अंतर्गत छात्रों कोफार्मेसी की अलग-अलग तरह की जानकारी दी जाती है| जैसे industrial operations, Instrumentation, emerging technology, Research method आदि |

M.Pharma एकमास्टर डिग्री का कोर्स है| इस कोर्स के अंतर्गत दवाइयों से संबंधित जानकारियां दी जाती है दवाई किस तरह बनती है| दवाई बनाने का फार्मूला क्या है|

M.Pharma Course की फुल फॉर्म Master Of pharmacy होती है, M pharma एक ऐसी degree है| जिसमे नौकरी की कभी कमी नहीं होती है| मेडिकल की फील्ड में सदैव नौकरी बढ़ती रहती है| इस कोर्स में आपको पूरी फार्मेसी की थ्योरी तथा प्रैक्टिकल दोनों की नॉलेज में दी जाती है| यह सेक्टर मेडिकल सेक्टर के हायर डिग्री में से एक है|

M. Pharma Course Highlights

Full form – Master of pharmacy

Duration –  2 years

Eligibility – 50% marks in bachelor of pharma

Entrance exam – GPAT, GLAET,NIPER

Fees – 50000 to 5,00,000

Job Options – Lab technician,Drug inspector,Analytical Chemist

Salary package – 2 to 8 lakh per annum

Area Of employment – Healthcare and related Fields

Higher study options –Another Post doctoral degree or Certificate Courses

Top recruiting company – MNCs,Government,Healthcare

M.Pharma Course Kaise Kare – How To Do M.pharma Course In Hindi

यदि आप एम फार्मा कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको काफी मेहनत करनी होती है मतलब की पहले तो आपको 12वीं कक्षा साइंस के सब्जेक्ट से पास करनी होती है, और 12वीं कक्षा में कम से कम आप के 50% अंक आना बहुत जरूरी होता है।

जब आप 12वीं कक्षा पास कर लेते हैं तो उसके पश्चात आपको B.Pharma Course करना होता है और बी फार्मा कोर्स मैं भी आपको काफी मेहनत करनी होती है, जब आप यह कोर्स कर लेते हैं तो उसके पश्चात आप M.Pharma Course के लिए एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं, परंतु B.Pharma कोर्स में भी आपके 50% अंक होना बहुत आवश्यक है नहीं तो आपको सरकारी कॉलेज में से M.Pharma कोर्स करने में परेशानी हो सकती है।

परंतु एक बात का आप विशेष रूप से ध्यान रखिएगा यदि आपकी एम फार्मा कोर्स में रुचि हो तो तभी आप इसको करिएगा। क्योंकि एम फार्मा कोर्स तक पहुंचते-पहुंचते आपको काफी देर लगती है, मतलब कि पहले तो आपको 12वीं साइंस सब्जेक्ट से पास करनी होती है इसीलिए इस कोर्स में आपकी रूचि होना बहुत आवश्यक है।

Admission process of M.Pharma Course In Hindi

इस कोर्स को करने के लिए दो तरह के ऑप्शन होते हैं पहला तो यह है कि आप सरकारी कॉलेज में से इस कोर्स को कर सकते हैं, वहां पर फीस भी काफी कम होती है और इसके अतिरिक्त यदि आप पढ़ने में अच्छे हैं तो आपको छात्रवृत्ति भी दी जाती है, यदि आप सरकारी कॉलेज से यह कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है जिसकी जानकारी हम आपको आगे देंगे।

यदि आप डायरेक्ट एडमिशन लेना चाहते हैं, तो फिर आप प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं, जिसके लिए आपको किसी भी तरह का कोई एंट्रेंस एग्जाम नहीं देना होता और आपको आसानी से एडमिशन भी मिल जाता है।

Here some Steps for M pharma admission process In Hindi 

1) Counselling process 

यदि आप चाहते हैं कि आप सरकारी कॉलेज से एम फार्मा कोर्स करें, तो इसके लिए आपको पहले एमटीएस एग्जाम पास करना होता है, जो कि काफी कठिन होता है और उस एंट्रेंस एग्जाम को यदि आप पास कर लेते हैं तो उसके पश्चात काउंसलिंग ( Counselling ) होती है, फिर काउंसलिंग के दौरान आप अपनी इच्छा के अनुसार अपने नजदीकी किसी भी कॉलेज का चयन कर सकते हैं और यदि एंट्रेंस एग्जाम में आपके अंक अच्छे हैं, तो फिर काउंसलिंग के दौरान आपको वह कॉलेज मिल जाता है फिर आप अपनी पढ़ाई उस कॉलेज में से कर सकते हैं।

2) Shortlisted candidate

 कई कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम नहीं लिया जाता, और छात्रों के पिछले अंकों के आधार पर ही शॉर्टलिस्ट किया जाता है जिन छात्रों के अंक ज्यादा होते हैं, उन्हें फिर सरकारी कॉलेज में से एम फार्मा कोर्स करने का मौका दे दिया जाता है।

3) Apply for the entrance exam

फार्मा में एडमिशन के लिए छात्र को GPAT(Graduate pharmacy Aptitude test )का एग्जाम क्लियर करना पड़ता है| तथा NTA एंट्रेंस एग्जाम जो की (National Testing Agency) द्वारा आयोजित किया  जाता  है |

 इनके अलावा और भी एंट्रेंस एग्जाम है जिन्हे क्लियर करके आप एम फार्मा में एडमिशन ले सकते हैं| जैसे —

1) OJEE- Odisha Joint entrance exam(  उड़ीसा जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम)

2) TS PGECET – Telangana state Post graduate Engineering Common entrance exam (  तेलंगाना स्टेट पोस्टग्रेजुएट इंजीनियरिंग कॉमन एंट्रेंस एग्जाम)

3) HPCET – Himanchal pradesh Common entrance exam etc. ( हिमाचल प्रदेश कॉमन एंट्रेंस एग्जाम)

Pharma Course Ki Fees Kitni Hoti Hai – Fees Structure Of M.Pharma Course In Hindi

जैसा कि आप जानते हैं कि किसी भी कोर्स को करने के लिए फीस स्ट्रक्चर सभी कॉलेजों तथा इंस्टिट्यूट का अलग अलग होता है|

Private college fees

एम फार्मा कोर्स को करने के लिए अगर आप किसी भी प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो 30000 से 1,75,000 रूपए तक फीस प्रतिवर्ष देने होते हैं|

Government college fees

अगर आप M pharma कोर्स करने के लिए किसी भी सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो GPAT पास करना होता है | प्राइवेट कॉलेज के comparison में सरकारी  कॉलेज में कम फीस में एडमिशन हो जाएगा|

Syllabus for M pharma course In Hindi 

1) Drug regulatory Affairs

New drug application (Anda material, safety data sheet preparation(MSDS ),New drug application (NDA)

2) Advanced Pharmaceuticals

Kinetic principles And stability test, Optimization Technique,Quality control, Preformulation Studies

3) Biological Evaluation

Pre-clinical evaluation of drugs evaluation, Alternative to animal Screening Procedure, BioAssays Modern method Of pharmalogical

4) Product development and formulations

Pilot plant scale up technique Suppositors Dermatological,Preparation fundamental aspects of प्रोडक्ट development

5) Novel drug delivery system

Oral drug delivery Fundamentals of Controlled release drug delivery system Regulatory consideration incontrolled Release

6) Biopharmaceuticals Pharmacokinetics

Distribution of drugs, Elimination of drugs,Absorption Of drugs PharmCokinetics.

College for M Pharma course In Hindi

1) Jamia Humdard university (जमिआ हमदर्द यूनिवर्सिटी )

2) National institute of Pharmaceutical education & research( नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन & रिसर्च )

3) Institute of chemical Technology (  इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल  टेक्नोलॉजी )

4) Manipal College of Pharmaceutical Sciences ( मणिपाल कॉलेज ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंस )

5) Birla institute of technology, Ranchi ( बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, रांची )

6) Poona college of Pharmacy (पूना कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी )

7) Bombay College of Pharmacy (बॉम्बे कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी )

8) PSG College of Pharmacy ( psg कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी )

9) Ganpat university ( गणपत यूनिवर्सिटी)

10) CMR College of pharmacy ( सीएमआर कॉलेज ऑफ फार्मेसी)

11) AKS University ( AKS  यूनिवर्सिटी)

12) Al shifa College of pharmacy

13) GuruJambheswar university of Science and technology

M.Pharma Course Ke Baad Nokri – Jobs after doing M pharma course

यदि आप एम फार्मा कोर्स करने की सोच रहे हैं  तो आपके मन में यह सवाल जरूर आता है कि  यदि  हम एम फार्मा कोर्स करते हैं तो M pharma  कोर्स करने के बाद में किस टाइप की जॉब आप कर सकते हैं तो हम आपको बता दें की नौकरी तो आपको मिल ही जाती है परंतु आपको यह कोशिश करना है कि आपको अच्छी से अच्छी कंपनी में नौकरी मिले और इसके लिए आपको एम फार्मा कोर्स के दौरान मन लगाकर पढ़ाई करनी होती है और जब आपकी ट्रेनिंग होती है तो ट्रेनिंग के दौरान भी आपको अच्छे से सब कुछ सीखना होता है ताकि आप आगे चलकर अच्छी कंपनी में नौकरी कर सके आगे हम आपको बता देते हैं कि आपको किस तरह की नौकरी मिल सकती है :-

Job Types –

1) Pharmacist(फार्मासिस्ट )

2) Medical Representatives ( मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव)

3) Clinical Researcher( क्लिनिकल रिसर्चएर )

4) Drug control Director(  ड्रग कंट्रोल डायरेक्टर)

5) Oncology Research( ऑंकोलॉजी रिसर्च)

6) Pharmacotherapist

7) Regulatory affairs associate (रेगुलेटरी अफेयर्स एसोसिएट )

8) Research scientist(रिसर्च साइंटिस्ट )

9)Quality control manager (क्वालिटी कंट्रोल मैनेजर )

10) IP (intellectual property )Analyst(इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी )

M Pharma job Sector – M.Pharma Course करने के बाद किस जगह पर नौकरी कर सकते हैं

1) Pharmaceutical company

2) Hospitals

3) Production units

4)Health and welfare provincial Research council

5) Department of national defense

6) Various health center

7) Education and research Institute

8) Food and drug Administration

9) Sales and marketing department

10) Drug control Administration

Top Recruiters and company for M pharma

बहुत ही ऐसी कंपनी है जिनमें m pharma  करने के बाद जॉब चान्सेस बहुत होते हैं |तथा यह कंपनी एजुकेशन कैपाबिलिटी के according भी हायरिंग करती है|

1) Sun pharmaceuticals ( सन फार्मास्यूटिकलस )

2) Novozymes ( नोवोजाइम्स)

3) Cipla ( सिपला)

4) Dr. Reddy laboratries ( डॉ रेड्डी लैबोरेट्रीज)

5) Lupin (लूपिन )

6) Zyduscadila ( ज़यदृस्कादिला )

7) Glenmark pharmaceuticals (ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स )

8) Abott india( अबॉट इंडिया )

9) Biocon(बिओकोन )

10) Wockhardt (वॉकहॉर्डट )

11) Ranbaxy (रैनबैक्सी )

12) Apollo hospitals (अपोलो हॉस्पिटल )

M.Pharma Karne Ke Baad Kitni Salary Mil Skti Hai – Sallary structure After M.Pharma In Hindi

एम फार्मा करने के बाद आपके सामने नौकरी के अनेकों सर निकल कर आते हैं, क्योंकि एम फार्मा एक मास्टर डिग्री होती है, और बहुत कम व्यक्ति होते हैं जो इस डिग्री को करते हैं एम फार्मा करने के पश्चात आप यदि किसी Pharma Company में नौकरी करते हैं, तो शुरुआत में आपको ₹30000 से लेकर ₹40000 तक की नौकरी मिल सकती है,

परंतु यह नौकरी आपको तभी मिल सकती है जब आपको काफी अच्छी नॉलेज होगी, क्योंकि एम फार्मा एक ऐसा कोर्स है जिसमें आपको बहुत ज्यादा नॉलेज दी जाती है यह कोर्स करने के पश्चात आपको दवाइयों के बारे में काफी ज्यादा जानकारी हो जाती है, इसलिए आप को कोई भी फार्मा कंपनी आसानी से नौकरी दे देती है और आप किसी भी फार्मा कंपनी में यदि नौकरी करते हैं तो आपको पद ( Designation ) भी अच्छा मिलता है।

बहुत सी कंपनियां तो ऐसी भी है जो आपको शुरुआत में ₹45000 तक तनख्वाह भी दे देती हैं परंतु इन कंपनियों में नौकरी आप तभी कर सकते हैं, जब फार्मा के अंदर सिखाई जाने वाली हर एक चीज अच्छे से सीखे और यह कोर्स करने के पश्चात आप अपनी खुद की केमिस्ट शॉप ( Chemist Shop )भी खोल सकते हैं और उसे खोल कर भी आप महीने के ₹100000 तक भी कमा सकते हैं, परंतु मेडिकल शॉप खोलने के लिए आपको बहुत ज्यादा अनुभव की जरूरत होती है, अब नीचे हम आपको कुछ कंपनियों के बारे में बता रहे हैं जो कि आपको अच्छी सैलरी दे सकती हैं।

Company wise salary – कंपनी के अनुसार तनख्वाह

1) Apollo hospitals –  INR 2.52 lakh to    5.52 Lakh per annum

2) Cipla –  1.5 lakh to 2.3 lakh per annum

3) Ranbaxy – 2.1 to 2.6 lakh per annum

4) Adani group – 3.5 lakh to 4.8 lakh per annum

5) Taj pharmaceuticals – 2.9 lakh to 3.5 lakh per annum

Conclusion –

हम आशा करते हैं कि आपको M.Pharma Course के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी जैसा कि हमने आपको बताया एम फार्मा कोर्स एक मास्टर डिग्री होती है जिसे करने के पश्चात आपको आसानी से नौकरी भी मिल जाती है आज के हमारे इस आर्टिकल में आपने जाना की M.Pharma Kya Hai तथा M.Pharma Course Kaise Kare और M.Pharma Course Karne Ke Baad Kya Kare इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी बताया है कि M.Pharma Course Ke Baad Kitni Salary Mil Sakti Hai तथा M.Pharma Course Ki Fees Kitni Hoti Hai यदि अब भी आपको M.Pharma Course Ke Baare Me Jaankari चाहिए हो तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट करके हमें बता सकते हैं कि आपका क्या सवाल है।

इन कोर्स के बारे मे भी जानिए :-

Previous articleEntrance Exam की तैयारी कैसे करे जानिए Entrance Exam की तैयारी करने के लिए Tips In Hindi
Next articleCoronavirus Essay in Hindi | कोरोनावायरस पर निबंध

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here