HomePhysicsअभिकेन्द्रीय तथा अपकेंद्रीय बल क्या है परिभाषा और अंतर | Centripetal And...

अभिकेन्द्रीय तथा अपकेंद्रीय बल क्या है परिभाषा और अंतर | Centripetal And Centrifugal Force in Hindi

आप सभी लोग हमारे Youtube चैनल eClubStudy को Subscribe जरूर करे

आज के इस पोस्ट मे अभिकेन्द्रीय तथा अपकेंद्रीय बल क्या है परिभाषा और अंतर Centripetal And Centrifugal Force in Hindi के बारे मे जानेगे।

अभिकेन्द्रीय बल

Centripetal Force in Hindi

Centripetal And Centrifugal Force in Hindiजब कोई वस्तु किसी वृत्ताकार मार्ग पर चलती है, तो उस पर कोई बल एक वृत्त के केंद्र पर कार्य करता है, इस बल को अभिकेंद्रीय बल कहते हैं।

  • इसे उदाहरण द्वारा इस प्रकार समझते हैं, मान लीजिये यदि हम किसी चीज़ को डोरी से बांध कर गोल गोल घुमायें, तो हमें डोरी अंदर की तरफ खींचे रहना पड़ता है !
  • अब इसी को दूसरे शब्दों में कहूँ तो उस चीज़ को डोरी से बांध कर घुमाने पर डोरी में जो तनाव महसूस होता है वही जरूरी अभिकेन्द्रीय बल (Centripetal Force) देता है।
  • अब मान लीजिये कि अगर घुमाते घुमाते अगर हम वो डोरी छोड़ दें तो क्या होगा ? वो चीज़ गोल गोल घूमने के बजाय सीधे जाकर कहीं गिरेगी, कारण ये रहा कि जब हमने डोरी छोड़ दी तो डोरी में तनाव तो खत्म हुआ ही साथ ही साथ आवश्यक अभिकेंद्रीय बल भी समाप्त हो गया !
  • सूर्य के चारों तरफ ग्रहों की गति और ग्रहों के चारों तरफ प्राकृतिक और कृत्रिम उपग्रहों की गति के लिए गुरुत्वाकर्षण ही जरूरी अभिकेंद्रीय बल प्रदान करता है
  • किसी मोड़ पर रेल अथवा कार और मोटर के  मुड़ने के समय और सड़क के बीच लगने वाला घर्षण बल आवश्यक अभिकेंद्रीय बल प्रदान करता है

अभिकेंद्रीय बल की प्रतिक्रिया

Centripetal force reaction in Hindi

न्यूटन की गति के तीसरे नियम के अनुसार  प्रत्येक क्रिया के बराबर तथा विपरीत प्रतिक्रिया होती है क्रिया तथा प्रतिक्रिया अलग-अलग वस्तुओं पर कार्य करती हैं वृत्तीय पथ पर गतिमान वस्तु पर कार्य करने वाले अभिकेंद्रीय बल की भी प्रतिक्रिया होती है

अभिकेंद्रीय बल के कुछ उदाहरण

Some examples of centripetal force in Hindi

  • मौत के कुएं में कुए की दीवार मोटरसाइकिल पर अंदर की ओर क्रिया बल लगाती है जबकि  इसका प्रतिक्रिया बल मोटरसाइकिल द्वारा  कुए की दीवार पर बाहर की ओर कार्य करता है !
  • पृथ्वी चंद्रमा पर अंदर की ओर अभिकेंद्रीय बल( गुरुत्वाकर्षण) लगाती है जबकि चंद्रमा पृथ्वी पर प्रतिक्रिया बल बाहर की ओर लगाता है !

अभिकेन्द्रीय बल की परिभाषा

Definition of centripetal force in Hindi

जब कोई वस्तु किसी वृत्ताकार मार्ग पर चलती है, तो उस पर कोई एक वृत्त के केंद्र पर कार्य करता है, इस बल को अभिकेंद्रीय बल कहते हैं।

इस बल के अभाव में वस्तु वृत्ताकार मार्ग पर नहीं चल सकती है। यदि कोई m द्रव्यमान का पिंड v से r त्रिज्या के वृत्तीय मार्ग पर चल रहा है तो उस पर कार्यकारी वृत्त के केंद्र की ओर आवश्यक अभिकेंद्रीय बल f=mv2/r होता है।

जिस बल के कारण किसी गतिशील वस्तु में, केंद्र से दूर भागने की प्रवृत्ति होती है, उस बल को अपकेन्द्रीय बल (Centrifugal Force) कहते हैं। और  यह वह आभासी बल होता है जो कि अभिकेन्द्रीय बल के समान एवं विपरीत दिशा में कार्य करता है, वास्तव में यह एक कल्पित बल है, वास्तविक नहीं। क्रीम सेपरेटर तथा सेंट्रीफ्युगल ड्रायर अपकेन्द्रीय बल के सिद्धांत पर कार्य करते हैं.

अपकेंद्रीय बल

Centrifugal Force in Hindi

यहाँ भी पहले हम समझेंगे उसके बाद ही परिभाषा देखेंगे

आप सभी लोग हमारे Youtube चैनल eClubStudy को Subscribe जरूर करे
  • मान लीजिये कि कोई आदमी कार में दरवाजे से चिपका बैठा है और वो कार तेजी से चल रही है, अब मान लो कि कार अचानक से तेज स्पीड से ही किसी मोड पर मुड़ती है तो उस आदमी को क्या महसूस होगा ?
  • उसे महसूस होगा कि जैसे वो कार की विंडो तोड़ कर बाहर गिर जाएगा, और मान लो कि अगर वो गलती से खुली हो तो वो पक्का बाहर गिरेगा !
  • बस यही है अपकेंद्रीय बल, केंद्र से बाहर की ओर लागने वाला !

अपकेन्द्रीय बल की परिभाषा

Definition of Centrifugal Force In Hindi

वह बल होता है जिसके कारण किसी गतिशील वस्तु में, केंद्र से दूर भागने की प्रवृत्ति होती है। यह वो आभासी बल होता है जो अभिकेन्द्रीय बल के समान तथा विपरीत दिशा में कार्य करता है।

  • अभिकेंद्रीयअभी केंद्र की तरफ बल लग रहा है ! केंद्र की ओर लगने वाला बल
  • अपकेंद्रीय – केंद्र से Up(ऊपर)- यानि केंद्र से बाहर की ओर लगने वाला बल

अपकेंद्रिय बल के उदाहरण

Examples of Centrifugal Force In Hindi

जब हम किसी कार मे यात्रा करते है और कार चालक जब अचानक से कार को बायी ओर मोड देता है तो हम दायी ओर को झुक जाते है ।

आप सभी लोग हमारे Youtube चैनल eClubStudy को Subscribe जरूर करे

वाशिंग मशीन से कपडे धोते समय , क्रीम सेपरेटर तथा सेन्‍ट्रीफ्युगल ड्रायर, पृथ्वी का भू – मध्य रेखा पर उभरा हुआ होना, मोड पर गाड़ी का पलटनाआदि सभी अपकेंद्रिय बल के सिद्धांत पर कार्य करते है ।

अपकेन्‍द्रीय बल का सूत्र

Centripetal force formula in Hindi

अपकेन्‍द्रीय बल =FC =MV2 /R =mr2

यहा

M=वस्‍तु का द्रव्‍यमान

V =वस्‍तु का वेग

R = व्रत्‍तीय मार्ग की त्रिज्‍या

ω= आमेगा = वस्‍तु का कोणीय वेग

अपकेन्‍द्रीय बल और अभिकेन्‍द्रीय बल मे अन्‍तर

Difference between centripetal force and centripetal force in Hindi

  • अपकेन्‍द्रीय बल केन्‍द्र से दूर की तरफ लगता है अर्थात् यह एक केन्‍द्रपसारक बल होता है जबकि अभिकेन्‍द्रीय  बल की दिशा केन्‍द्र की तरफ होती है तथा यह केन्‍द्राभिसारी  बल होता है ।
  • अपकेन्‍द्रीय बल एक आभासी बल होता है जबकि  अभिकेन्‍द्रीय बल एक वास्‍तविक बल होता है जो किसी  बस्‍तु  को केन्‍द्र की तरफ रखने  का प्रयास करता है ।
  • अपकेन्‍द्रीय बल की खोज क्रिस्टियन हायगन्‍स ने की थी जबकि अभिकेन्‍द्रीय बल की खोल आइजेक न्‍यूटन ने की थी।

तो आपको यह पोस्ट धातुएँ एवं उनके यौगिक, धातुओं के सामान्य गुण (Metals and Their Compounds In Hindi) कैसा लगा कमेंट मे जरूर बताए और इस पोस्ट को लोगो के साथ शेयर भी जरूर करे…

4.3/5 - (225 votes)
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

close button