HomeScienceपरमाणु एवं अणु क्या है | Atoms And Molecules in Hindi Science...

परमाणु एवं अणु क्या है | Atoms And Molecules in Hindi Science Class 9th Chapter 3


अगर आप 9 वी विज्ञान (9th Science) के छात्र है तो आज के इस पोस्ट मे कक्षा 9 विज्ञान NCERT बुक के जरिये जानेगे की परमाणु एवं अणु | Atoms And Molecules In Hindi क्या है.

पोस्ट के मुख्य टॉपिक hide

परमाणु एवं अणु क्या है | Atoms And Molecules In Hindi Science Class 9th Chapter – 3

तो चलिये अब कक्षा 9 विज्ञान NCERT बुक के जरिये जानते है परमाणु एवं अणु | Atoms And Molecules In Hindi क्या है.

Atoms And Molecules In Hindi Science Class 9th Chapter 3

  • किसी पदार्थ का वह मुल पदार्थ जिसे सरलीकृत नहीं किया जा सके तत्व कहलाता है| जैसे- हाइड्रोजन, कार्बन, ऑक्सीजन, आयरन, चाँदी और सोना आदि |
  • पदार्थ का वह सूक्ष्मतम कण जिसे और आगे विभाजित नहीं किया जा सके वह परमाणु कहलाता है |
  • एक ही तत्व या भिन्न-भिन्न के दो या दो से अधिक परमाणुओं के समूह जो रासायनिक से एक दुसरे से बंधे होते है अणु कहलाते हैं | उदाहरण: O2, H2, N2, H2O, CO2, MgCl2 इत्यादि |
  • अणु जो एक से अधिक तत्वों से मिलकर बना है यौगिक कहलाता है| उदाहरण: H2O, CO2, NH3, BrCl2, CH4 इत्यादि |
  • किसी तत्व के सबसे छोटे कण परमाणु होते हैं | जैसे – हाइड्रोजन के परमाणु (H), ऑक्सीजन के परमाणु (O), कार्बन के परमाणु (C), मैग्नीशियम के परमाणु (Mg) इत्यादि |
  • द्रव्यमान संरक्षण का नियम: द्रव्यमान संरक्षण के नियम के अनुसार किसी रासायनिक अभिक्रिया में द्रव्यमान का नहीं तो सृजन होता है और नहीं विनाश होता है |
  • निश्चित अनुपात का नियम: किसी भी यौगिक में तत्व सदैव एक निश्चित द्रव्यमान के अनुपात में विद्यमान होते हैं |
  • दिए गए तत्व के सभी परमाणुओं का द्रव्यमान एवं रासायनिक गुणधर्म समान होते हैं।
  • भिन्न-भिन्न तत्वों के परमाणुओं के द्रव्यमान एवं रासायनिक गुणधर्म भिन्न-भिन्न होते हैं।
  • डाल्टन के परमाणु सिद्धांत में परमाणु द्रव्यमान सबसे विशिष्ट संकल्पना थी और उनके अनुसार प्रत्येक तत्व का एक अभिलाक्षणिक परमाणु द्रव्यमान होता है |
  • परमाणु द्रव्यमान इकाई : किसी तत्व के सापेक्षिक परमाणु द्रव्यमान को उसके परमाणुओं के औसत द्रव्यमान का कार्बन-12 परमाणु के द्रव्यमान के 1/12वें भाग के अनुपात को परमाणु द्रव्यमान इकाई कहते है |
  • किसी तत्व या यौगिक का अणु उस तत्व या यौगिक के सभी गुण धर्म को प्रदर्शित करते हैं
  • एक ही तत्व के परमाणु अथवा भिन्न-भिन्न तत्वों के’ परमाणु परस्पर संयोग करके अणु निर्मित करते हैं।
  • आर्गन (Ar) हीलियम (He) इत्यादि जैसे अनेक उत्कृष्ट (गैसों) तत्वों के अणु उसी तत्व के केवल एक परमाणु द्वारा निर्मित होते हैं। अत: ये एक परमाणुक होते हैं क्योंकि उत्कृष्ट गैसें किसी भी तत्व से यहाँ तक की खुद से भी संयोजन नहीं करती है |
  • किसी अणु संरचना में प्रयुक्त होने वाले परमाणुओं की संख्या को उस अणु की परमाणुकता कहते है | जैसे – ऑक्सीजन के अणु (O2) की परमाणुकता 2 है|, फोस्फोरस के अणु (P4) की परमाणुकता 4 है |
  • कुछ तत्व जैसे ऑक्सीजन, हाइड्रोजन और क्लोरीन आदि अपने दो परमाणुओं से अणु बनाते हैं | ऐसे तत्व को द्वि-परमाणुक अणु कहते हैं  उदाहरण: (a) हाइड्रोजन (H2) (b) ऑक्सीजन (O2) |
  • वह अणु जो तीन परमाणुओं से मिलकर बना होता है त्रि-परमाणुक अणु कहलाता है| जैसे – ओजोन (O3) |
  • किसी तत्व के वें अणु जिसमें चार परमाणु होते हैं चतुर्परमाणुक अणु कहलाता है| जैसे – फोस्फोरस (P4) |
  • किसी तत्व के वें अणु जिसमें परमाणुओं की संख्या चार से अधिक हो बहुपरमाणुक अणु कहलाता है | जैसे – (a) सल्फर (S8) |
  • किसी परमाणु में प्रोट्रॉन तथा इलेक्ट्रान बराबर संख्या में होते हैं |
  • अक्रिय गैस को छोड़कर सभी परमाणुओं का इलेक्ट्रोनिक रचनाएँ अस्थायी होते हैं |
  • परमाणु स्वतंत्र रूप से अस्तित्व में नहीं रह सकते हैं |​
  • परमाणु अस्तित्व में बने रहने के लिए इलेक्ट्रॉन्स की साझेदारी करते हैं |
  • आयन विद्युत आवेशित कण होते हैं |
  • आयनों का इलेक्ट्रोनिक रचनाएँ स्थायी होते हैं |
  • आयन स्वतंत्र रूप से अस्तित्व में रह सकते हैं |
  • आयनिक यौगिकों में पहला तत्व धातु (metal) होता है जो धनायन (cation) बनाता है और दूसरा तत्व अधातु (non-metal) होता है जो ऋणायन (anion) बनाता है |
  • मोल एक प्रकार से बहुत सारे परमाणुओं का ढेर (heap) है | जिसमें’ किसी भी तत्व के परमाणुओं, अणुओं अथवा आयनों की संख्या 6.022 x 1023​ होता है |
  • मोल पदार्थ की वह मात्रा है जिसमें कणों की संख्या (परमाणु, आयन, अणु या सूत्र इकाई इत्यादि) कार्बन-12 के ठीक 12 g में विद्यमान परमाणुओं के बराबर होती है।
  • किसी पदार्थ के एक मोल में कणों (परमाणु, अणु अथवा आयन) की संख्या निश्चित होती है | जिसका मान 6.022 x 1023​ होता है | इसी संख्या को आवोगाद्रो स्थिरांक या आवोगाद्रो संख्या कहते हैं |
  • किसी तत्व के परमाणुओं के एक मोल का द्रव्यमान को मोलर द्रव्यमान कहते है | परमाणुओं के मोलर द्रव्यमान को ग्राम परमाणु द्रव्यमान भी कहते हैं |

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules in Hindi Question and Answer in Hindi

NCERT Solutions for Class 9th Science Chapter परमाणु एवं अणु क्या है के चेप्टर से Atoms And Molecules Question and Answer in Hindi इससे जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर को जानते है

Q1. एक अभिक्रिया में 5.3 ग्राम सोडियम कार्बोनेट तथा 6.0 ग्राम एथेनोइक अम्ल 

अभिकृत होता है | 2.2 ग्राम कार्बन डाइऑक्साइड 8.2 g सोडियम एथेनोएट एवं 0.9 g जल उत्पादन के रूप में प्राप्त होता है| इस अभिक्रिया द्वारा दिखाइए की यह परिक्षण द्रव्यमान संरक्षण के नियम के अनुरूप है |
सोडियम कार्बोनेट + एथेनोइक अम्ल -> सोडियम एथेनाएट + कार्बन डाइऑक्साइड +जल 

उत्तर- अभिकारकों का द्रव्यमान = सोडियम कार्बोनेट का द्रव्यमान + एथेनोइक अम्ल (विलयन) का द्रव्यमान =5.3 ग्राम +6.ग्राम=11.3 ग्राम

उत्पादों का द्रव्यमान =सोडियम एथेनोइक का द्रव्यमान = CO2 का दर्व्यमान =जल का द्रव्यमान =8.2 ग्राम +2.2 ग्राम +0.9 ग्राम =11.3 ग्राम

Q2. हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन द्रव्यमान के अनुसार 1.8 के अनुपाद में संयोग करके जल निर्मित करते है | 3g हाइड्रोजन गैस के साथ पूर्ण रूप से संयोग करने के लिए कितने ऑक्सीजन गैस के द्रव्यमान की आवश्यकता होगी?     

उत्तर: 2H2 + O2 → 2H2O

4g 32g

1:8

1g हाइड्रोजन से सम्पूर्ण अभिक्रिया के लिए ऑक्सीजन की जरुरत  = 8g

3g हाइड्रोजन से सम्पूर्ण अभीक्रिया के लिए ऑक्सीजन की

Q3  डाल्टन के परमाणु सिद्धांत का कौन-सा अभिगृहीत द्रव्यमान के संरक्षण के नियम का प्ररिणाम है ?

उत्तर: परमाणुओं के समूह जिन पर नेट आवेश विद्यमान हो उसे बहुपरमाणुक आयन कहते हैं।

उदाहरण: N3- + H44+ = NH4+

Q4. डाल्टन के परमाणु सिद्धांत का कौन-सा अभिगृहीत निश्चित अनुपात  के नियम की व्याख्या करता है ?

उत्तर:(a) मैग्नीशियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र : MgCl2

(b) कैल्सियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र: CaCl2

(c)  कापर नाइट्रेट

रासायनिक सूत्र: Cu(NO3)2

(d) ऐलुमिनियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र: AlCl3

(e) कैल्सियम कार्बोनेट

रासायनिक सूत्र: CaCO3

Q5. निम्नलिखित यौगिकों में विद्यमान तत्वों का नाम दीजिएः
(a) बुझा हुआ चूना
(b) हाइड्रोजन ब्रोमाइड
(c) बेकिंग पाउडर (खाने वाला सोडा)
(d) पोटैशियम सल्फेट

उत्तर: 

(a) बुझा हुआ चूना (CaO) में विद्यमान तत्व कैल्शियम और ऑक्सीजन है |

(b) हाइड्रोजन ब्रोमाइड (HBr) में विद्यमान तत्व हाइड्रोजन और ब्रोमिन है |

(c) बेकिंग पाउडर (खाने वाला सोडा) (NaHCO3) में विद्यमान तत्व सोडियम, हाइड्रोजन, कार्बन और ऑक्सीजन हैं |

(d) पोटैशियम सल्फेट (K2SO4) में विद्यमान तत्व पोटैशियम, सल्फर और ऑक्सीजन हैं |

Q6. निम्नलिखित पदार्थों के मोलर द्रव्यमान का परिकलन कीजिएः

(a) एथाइन C2H2
(b) सल्फर अणु, S8
(c) फोस्फोरस अणु P4 (फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान = 31)
(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, HCl
(e) नाइट्रिक अम्ल, HNO3

उत्तर: 

(a) एथाइन C2H2

मोलर द्रव्यमान = 2 (कार्बन का परमाणु द्रव्यमान) + 2 (हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान)

= 2 × 12 + 2 × 1

= 24 + 2

= 26 g

(b) सल्फर अणु, S8

मोलर द्रव्यमान = 8(सल्फर का परमाणु द्रव्यमान)

= 8 × 32 = 256 g

(c) फोस्फोरस अणु P4 (फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान = 31)

मोलर द्रव्यमान = 4(फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान)

​= 4 × 31 = 124 g

(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, HCl

मोलर द्रव्यमान = हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + क्लोरीन का परमाणु द्रव्यमान

= 1 + 35.5 = 36.5 g

(e) नाइट्रिक अम्ल, HNO3

मोलर द्रव्यमान =  हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + नाइट्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + 3(ऑक्सीजन का परमाणु द्रव्यमान)

= 1 + 14 + 3 × 16

​= 63 g

Q7. निम्न का द्रव्यमान क्या होगाः
(a) 1 मोल नाइट्रोजन परमाणु?
(b) 4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु (ऐलुमिनियम का परमाणु द्रव्यमान = 27)?
(c)10 मोल सोडियम सल्फाईट (Na2SO3)? 

उत्तर: 

(a) 1 मोल नाइट्रोजन परमाणु का द्रव्यमान = N = 14u = 14 g

(b) 4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु का द्रव्यमान = 4 × 27 = 108 g

(c) 10 मोल सोडियम सल्फाईट का द्रव्यमान = 10(2 × 23 + 32 + 3 × 16 )

                                      = 10 (46 + 32 + 48)

                                      = 10 × 126

                                      = 1260 g

Q8. मोल में परिवर्तित कीजिएः

(a) 12 g आक्सीजन गैस
(b) 20 g जल
(c) 22 g कार्बन डाइआॅक्साइड

उत्तर:

(a) ऑक्सीजन अणु O2 का आण्विक द्रव्यमान = 2 × 16 = 32 g

32 g ऑक्सीजन गैस  में 1 मोल

1 g ऑक्सीजन गैस में 1/32 मोल

​12 g ऑक्सीजन गैस में 12/32 = 0.375 मोल

(b) जल H2O का आण्विक द्रव्यमान = 2 × 1 + 16 = 18 g

अत: 18 g जल में जल का 1 मोल होता है |

1 g जल में 1 / 18 मोल

20 g जल में 20 / 18 = 1.11 मोल

(c) कार्बन डाइऑक्साइड (CO2​) का आण्विक द्रव्यमान = 12 + 2 × 16 = 44 g

अत: 44 ग्राम कार्बन डाइऑक्साइड में 1 मोल होता है |

1 g कार्बन डाइऑक्साइड में 1 / 44 मोल

22 g कार्बन डाइऑक्साइड में 22/44 = 0.5 मोल

Q9. निम्न का द्रव्यमान क्या होगाः

(a) 0.2 मोल आक्सीजन परमाणु?
(b) 0.5 मोल जल अणु?

उत्तर: 

(a) 1 मोल ऑक्सीजन परमाणु = 16 g

0.2 मोल ऑक्सीजन परमाणु = 0.2 × 16g = 3.2 g

(b) 1 मोल जल अणु का द्रव्यमान = 18 g

0.5 मोल जल अणु का द्रव्यमान = 0.5 × 18g  = 9.0 g

Q10.16 g ठोस में सल्फर (S8) के अणुओं की संख्या का परिकलन कीजिए।

हल: 

सल्फर (S8) का आण्विक द्रव्यमान = 8 × 32 = 256 g

256 g सल्फर में अणुओं की संख्या = 6.022 × 1023

Q11. 0.051 g ऐलुमिनियम आॅक्साइड (Al2O3) में ऐलुमिनियम आयन की संख्या
का परिकलन कीजिए।

उत्तर: 

(संकेत: किसी आयन का द्रव्यमान उतना ही होता है जितना कि उसी तत्व
के परमाणु का द्रव्यमान होता है। ऐलुमिनियम का परमाणु द्रव्यमान = 27 u है।)

Q1. 0.24 g आक्सीजन एवं बोरान युक्त यौगिक के नमूने में विश्लेषण द्वारा यह पाया गया कि उसमें 0.096 g बोरान एवं 0.144 g आॅक्सीजन है। उस यौगिक के प्रतिशत संघटन का भारात्मक रूप में परिकलन कीजिए।

हल: 

आक्सीजन एवं बोरान युक्त यौगिक के नमूने का द्रव्यमान (m)= 0.24 g

​नमूने में का बोरान द्रव्यमान =  0.096 g

Q12. 3.0 g कार्बन 8.00 g आॅक्सीजन में जलकर 11.00 g कार्बन डाइआक्साइड निर्मित करता है। जब 3.00 g कार्बन को 50.00 g आॅक्सीजन में जलाएँगे तो कितने ग्राम कार्बन डाइआॅक्साइड का निर्माण होगा? आपका उत्तर रासायनिक संयोजन के किस नियम पर आधारित होगा?

उत्तर: जब 3.00 g कार्बन को 50.00 g आॅक्सीजन में जलाएँगे तो कार्बन डाइऑक्साइड का निर्माण करने के लिए 8.00 g ऑक्सीजन ही प्रयुक्त करेगा | चाहे उसे कितनी भी मात्रा के ऑक्सीजन में क्यों न जलाया जाये | यह रासायनिक संयोजन के निश्चित अनुपात के नियम पर आधारित है | तत्व यौगिक के द्रव्यमान के एक निश्चित अनुपात में विद्यमान रहते हैं |

Q13. बहुपरमाणुक आयन क्या होते हैं? उदारहरण दीजिए।

उत्तर: परमाणुओं के समूह जिन पर नेट आवेश विद्यमान हो उसे बहुपरमाणुक आयन कहते हैं।

उदाहरण: N3- + H44+ = NH4+

Q14. निम्नलिखित के रासायनिक सूत्र लिखिए:
(a) मैग्नीशियम क्लोराइड
(b) कैल्सियम क्लोराइड
(c) कापर नाइट्रेट
(d) ऐलुमिनियम क्लोराइड
(e) कैल्सियम कार्बोनेट

उत्तर:

(a) मैग्नीशियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र : MgCl2

(b) कैल्सियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र: CaCl2

(c)  कापर नाइट्रेट

रासायनिक सूत्र: Cu(NO3)2

(d) ऐलुमिनियम क्लोराइड

रासायनिक सूत्र: AlCl3

(e) कैल्सियम कार्बोनेट

रासायनिक सूत्र: CaCO3

Q15. निम्नलिखित यौगिकों में विद्यमान तत्वों का नाम दीजिएः
(a) बुझा हुआ चूना
(b) हाइड्रोजन ब्रोमाइड
(c) बेकिंग पाउडर (खाने वाला सोडा)
(d) पोटैशियम सल्फेट

उत्तर: 

(a) बुझा हुआ चूना (CaO) में विद्यमान तत्व कैल्शियम और ऑक्सीजन है |

(b) हाइड्रोजन ब्रोमाइड (HBr) में विद्यमान तत्व हाइड्रोजन और ब्रोमिन है |

(c) बेकिंग पाउडर (खाने वाला सोडा) (NaHCO3) में विद्यमान तत्व सोडियम, हाइड्रोजन, कार्बन और ऑक्सीजन हैं |

(d) पोटैशियम सल्फेट (K2SO4) में विद्यमान तत्व पोटैशियम, सल्फर और ऑक्सीजन हैं |

Q16. निम्नलिखित पदार्थों के मोलर द्रव्यमान का परिकलन कीजिएः

(a) एथाइन C2H2
(b) सल्फर अणु, S8
(c) फोस्फोरस अणु P4 (फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान = 31)
(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, HCl
(e) नाइट्रिक अम्ल, HNO3

उत्तर: 

(a) एथाइन C2H2

मोलर द्रव्यमान = 2 (कार्बन का परमाणु द्रव्यमान) + 2 (हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान)

= 2 × 12 + 2 × 1

= 24 + 2

= 26 g

(b) सल्फर अणु, S8

मोलर द्रव्यमान = 8(सल्फर का परमाणु द्रव्यमान)

= 8 × 32 = 256 g

(c) फोस्फोरस अणु P4 (फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान = 31)

 मोलर द्रव्यमान = 4(फोस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान)

​= 4 × 31 = 124 g

(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, HCl

मोलर द्रव्यमान = हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + क्लोरीन का परमाणु द्रव्यमान

= 1 + 35.5 = 36.5 g

(e) नाइट्रिक अम्ल, HNO3

मोलर द्रव्यमान =  हाइड्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + नाइट्रोजन का परमाणु द्रव्यमान + 3(ऑक्सीजन का परमाणु द्रव्यमान)

= 1 + 14 + 3 × 16

= 63 g

Q17. निम्न का द्रव्यमान क्या होगाः
(a) 1 मोल नाइट्रोजन परमाणु?
(b) 4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु (ऐलुमिनियम का परमाणु द्रव्यमान = 27)?
(c)10 मोल सोडियम सल्फाईट (Na2SO3)? 

उत्तर: 

(a) 1 मोल नाइट्रोजन परमाणु का द्रव्यमान = N = 14u = 14 g

(b) 4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु का द्रव्यमान = 4 × 27 = 108 g

(c) 10 मोल सोडियम सल्फाईट का द्रव्यमान = 10(2 × 23 + 32 + 3 × 16 )

= 10 (46 + 32 + 48)

= 10 × 126

= 1260 g

Q18. मोल में परिवर्तित कीजिएः

(a) 12 g आक्सीजन गैस
(b) 20 g जल
(c) 22 g कार्बन डाइआक्साइड

उत्तर:

(a) ऑक्सीजन अणु O2 का आण्विक द्रव्यमान = 2 × 16 = 32 g

32 g ऑक्सीजन गैस  में 1 मोल

1 g ऑक्सीजन गैस में 1/32 मोल

​12 g ऑक्सीजन गैस में 12/32 = 0.375 मोल

(b) जल H2O का आण्विक द्रव्यमान = 2 × 1 + 16 = 18 g

अत: 18 g जल में जल का 1 मोल होता है |

1 g जल में 1 / 18 मोल

20 g जल में 20 / 18 = 1.11 मोल

(c) कार्बन डाइऑक्साइड (CO2​) का आण्विक द्रव्यमान = 12 + 2 × 16 = 44 g

अत: 44 ग्राम कार्बन डाइऑक्साइड में 1 मोल होता है |

1 g कार्बन डाइऑक्साइड में 1 / 44 मोल

22 g कार्बन डाइऑक्साइड में 22/44 = 0.5 मोल

Q19. निम्न का द्रव्यमान क्या होगाः

(a) 0.2 मोल आक्सीजन परमाणु?
(b) 0.5 मोल जल अणु?

उत्तर: 

(a) 1 मोल ऑक्सीजन परमाणु = 16 g

0.2 मोल ऑक्सीजन परमाणु = 0.2 × 16g = 3.2 g

(b) 1 मोल जल अणु का द्रव्यमान = 18 g

0.5 मोल जल अणु का द्रव्यमान = 0.5 × 18g = 9.0 g

Q20.16 g ठोस में सल्फर (S8) के अणुओं की संख्या का परिकलन कीजिए।

हल: 

सल्फर (S8) का आण्विक द्रव्यमान = 8 × 32 = 256 g

 256 g सल्फर में अणुओं की संख्या = 6.022 × 1023

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े अति लघु उत्तरीय प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules in Hindi Short Question and Answer in Hindi

Q21. 0.051 g ऐलुमिनियम आक्साइड (Al2O3) में ऐलुमिनियम आयन की संख्या
का परिकलन कीजिए।

उत्तर: 

(संकेत: किसी आयन का द्रव्यमान उतना हीे होता है जितना कि उसी तत्व
के परमाणु का द्रव्यमान होता है। ऐलुमिनियम का परमाणु द्रव्यमान = 27 u है।)

Q22.  अमोनिया में हाइड्रोजन के कितने परमाणु होते है?

ऊतर: 4

Q23. डाल्टन ने अपनी जीविका किस रूप में शुरू की ?

उत्तर: शिक्षक के रूप में

Q24. परमाणुओं का वह पुंज जो आयन की तरह व्यवहार करता है क्या कहलाता है ?  

उत्तर:  बहुपरमाणुक आयन |

Q25. एक अधातु का नाम जिसकी संयोजकता 1 होती है ?

उत्तर: हाइड्रोजन , क्लोरीन |

Q26.  एक नैनो मीटर कितने मीटर के बराबर होता है ?

उत्तर: 10-9m

Q27.  कार्बन के किस समस्थानिक को परमाणु द्रव्यमान ईकाई का मात्रक बनाया गया है |

उत्तर: कार्बन-12

Q28. हाइड्रोजन के  अणु की परमाणुकता क्या है?

उत्तर: द्वि-परमाणुक |

Q29. कार्बन का एक परमाणु अभिक्रिया के दौरान क्लोरीन के कितने परमाणुओं से बंध (अणु) बनयेगा |

उत्तर: 4

Q30. 18 ग्राम जल में कितना मोल होगा ?

ऊतर: 1 मोल|

Q31. एक अधातु जिसका एटॉमिक न० 7 है |

उत्तर: नाइट्रोजन |

Q32. Anion (ऋणायन) जो 2- इलेक्ट्रान होल्ड करता है |

उत्तर: ऑक्साइड (O2-)

Q33. स्थिर अनुपात का नियम देने वाले वैज्ञानिक का नाम –

उत्तर: जे. एल. प्राउस्ट |

Q34. AMU का पूरा नाम –

उत्तर: एटॉमिक मास यूनिट (atomic mass unit)

Q35. हाइड्रोजन को अपना अष्टक पूरा करने के लिए कुल कितने इलेक्ट्रान होने चाहिए ?

उत्तर: 2

Q36. उस वैज्ञानिक का नाम जिन्होंने परमाणु सिद्धांत दिया |

उत्तर: डाल्टन |

Q37. IUPAC क्या काम करता है ?

उत्तर: तत्वों के नाम एवं प्रतिक चिन्ह प्रदान करता है |

Q38. परमाणु त्रिज्या मापने की इकाई को क्या कहते है ? 

उत्तर: नैनोमीटर (nm) |

Q39. डाल्टन के परमाणु सिद्धांत के अनुसार परमाणु की परिभाषा लिखिए। 
उत्तर: सभी द्रव्य चाहे तत्व, यौगिक या मिश्रण हो सूक्ष्म कणों से बने होते है जिन्हे परमाणु कहते है।

Q40. आयन क्या है ? यह कितने प्रकार का होता है ?
उत्तर: अणु या परमाणु के आवेशित कण को आयन कहते है।
यह दो प्रकार का होता है।
(i) धनायन (ii)  ऋणायन

Q41. आणविक द्रव्यमान से आप क्या समझते है ?

उत्तर – किसी पदार्थ का आण्विक द्रव्यमान उसके सभी संघटक परमाणुओं के द्रव्यमान का योग होता है। इस प्रकार यह अणु का वह सापेक्ष द्रव्यमान है जिसे परमाणु द्रव्यमान इकाई द्वारा व्यक्त किया जाता है।

Q42.  अमोनिया में हाइड्रोजन के कितने परमाणु होते है?

ऊतर: 4

Q43. डाल्टन ने अपनी जीविका किस रूप में शुरू की ?

उत्तर: शिक्षक के रूप में

Q44. परमाणुओं का वह पुंज जो आयन की तरह व्यवहार करता है क्या कहलाता है ?  

उत्तर:  बहुपरमाणुक आयन |

Q45. एक अधातु का नाम जिसकी संयोजकता 1 होती है ?

उत्तर: हाइड्रोजन , क्लोरीन |

Q46.  एक नैनो मीटर कितने मीटर के बराबर होता है ?

उत्तर: 10-9m

Q47.  कार्बन के किस समस्थानिक को परमाणु द्रव्यमान ईकाई का मात्रक बनाया गया है|

उत्तर: कार्बन-12

Q48. हाइड्रोजन के अणु की परमाणुकता क्या है?

उत्तर: द्वि-परमाणुक |

Q49. कार्बन का एक परमाणु अभिक्रिया के दौरान क्लोरीन के कितने परमाणुओं से बंध (अणु) बनयेगा |

उत्तर: 4

Q50. 18 ग्राम जल में कितना मोल होगा ?

ऊतर: 1 मोल|

Q51. एक अधातु जिसका एटॉमिक न० 7 है |

उत्तर: नाइट्रोजन |

Q52. Anion (ऋणायन) जो 2- इलेक्ट्रान होल्ड करता है |

उत्तर: ऑक्साइड (O2-)

Q53. स्थिर अनुपात का नियम देने वाले वैज्ञानिक का नाम –

उत्तर: जे. एल. प्राउस्ट |

Q54. AMU का पूरा नाम –

उत्तर: एटॉमिक मास यूनिट (atomic mass unit)

Q55. हाइड्रोजन को अपना अष्टक पूरा करने के लिए कुल कितने इलेक्ट्रान होने चाहिए?

उत्तर: 2

Q56. उस वैज्ञानिक का नाम जिन्होंने परमाणु सिद्धांत दिया |

उत्तर: डाल्टन |

Q57. IUPAC क्या काम करता है ?

उत्तर: तत्वों के नाम एवं प्रतिक चिन्ह प्रदान करता है |

Q58. परमाणु त्रिज्या मापने की इकाई को क्या कहते है ? 

उत्तर: नैनोमीटर (nm) |

Q59. डाल्टन के परमाणु सिद्धांत के अनुसार परमाणु की परिभाषा लिखिए। 

उत्तर: सभी द्रव्य चाहे तत्व, यौगिक या मिश्रण हो सूक्ष्म कणों से बने होते है जिन्हे परमाणु कहते है।

Q60. आयन क्या है ? यह कितने प्रकार का होता है ?

उत्तर: अणु या परमाणु के आवेशित कण को आयन कहते है।
यह दो प्रकार का होता है।
(i) धनायन (ii)  ऋणायन

Q61. आणविक द्रव्यमान से आप क्या समझते है ?

उत्तर – किसी पदार्थ का आण्विक द्रव्यमान उसके सभी संघटक परमाणुओं के द्रव्यमान का योग होता है। इस प्रकार यह अणु का वह सापेक्ष द्रव्यमान है जिसे परमाणु द्रव्यमान इकाई द्वारा व्यक्त किया जाता है।

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े लघु उत्तरीय प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules in Hindi Long Question and Answer in Hindi

प्रश्न 1.
एक अभिक्रिया में 5.3 g सोडियम कार्बोनेट एवं 6.0 g एथेनॉइक अम्ल अभिकृत होते हैं। 2.2 g कार्बन डाइऑक्साइड, 8.2 g सोडियम एथोनॉएट तथा 0.9 g जले उत्पाद के रूप में प्राप्त होते हैं। इस अभिक्रिया द्वारा दिखाइए कि यह परीक्षण द्रव्यमान संरक्षण के नियम के अनुरूप है।
सोडियम कार्बोनेट + एथेनॉइक अम्ल → सोडियम एथेनॉएट + कार्बन डाइऑक्साइड + जल
उत्तर-
दी गई रासायनिक अभिक्रिया निम्न प्रकार से है
सोडियम कार्बोनेट + एथेनॉइक अम्ल (जलीय विलयन) → सोडियम एथेनॉएट (जलीय विलयन) + कार्बन डाइऑक्साइड + जल
(i) अभिकर्मकों की कुल द्रव्यमान = सोडियम कार्बोनेट का द्रव्यमान + एथेनॉइक अम्ल का द्रव्यमान
= 5.3 g + 6.0 g = 11.3 g
(ii) उत्पादों का कुल द्रव्यमान = (सोडियम एथेनोएट + कार्बन डाइऑक्साइड + जल का द्रव्यमान)
= 8.2 g + 2.2 g + 0.9 g = 11.3 g
अभिकर्मकों का कुल द्रव्यमान तथा उत्पादों का कुल द्रव्यमान समान है।
अतः ये द्रव्यमान संरक्षण के नियम को प्रदर्शित करते हैं।

प्रश्न 2.
हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन द्रव्यमान के अनुसार 1 : 8 के अनुपात में संयोग करके जल बनाते हैं। 3g हाइड्रोजन गैस के साथ पूर्णतया संयोग करने के लिए कितने ऑक्सीजन गैस के द्रव्यमान की आवश्यकता होगी ?
उत्तर-
जल में संहति के अनुसार हाइड्रोजन तथा ऑक्सीजन का अनुपात = 1 : 8
1 ग्राम हाइड्रोजन पूर्णतया क्रिया करके जल बनाने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन = 8 ग्राम
अत: 3 ग्राम हाइड्रोजन के पूर्णतया क्रिया करने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन = 8 x 3 = 24 ग्राम।

प्रश्न 3.
डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का कौन-सा अभिग्रहीत द्रव्यमान के संरक्षण के नियम का परिणाम है?
उत्तर-
द्रव्यमान का की संरक्षण नियम डाल्टन के निम्नलिखित सिद्धान्त पर आधारित है – तत्त्व के परमाणुओं को किसी भी विधि द्वारा न तो नष्ट किया जा सकता है और न ही उत्पन्न किया जा सकता है।

प्रश्न 4.
डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का कौन-सा अभिग्रहीत निश्चित अनुपात के नियम की व्याख्या करता है?
उत्तर-
डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का निम्नलिखित अभिग्रहीत निश्चित अनुपात के नियम की व्याख्या करता है : किसी भी यौगिक में परमाणुओं की सापेक्ष संख्या एवं प्रकार निश्चित होते हैं तथा भिन्न-भिन्न तत्त्वों के परमाणु परस्पर छोटी पूर्णसंख्या के अनुपात में संयोग कर यौगिक निर्मित करते हैं।

प्रश्न 5.
परमाणु द्रव्यमान इकाई को परिभाषित कीजिए।
उत्तर-
परमाणु द्रव्यमान इकाई : कार्बन-12 समस्थानिक के एक परमाणु के द्रव्यमान के

वें भाग को परमाणु द्रव्यमान इकाई के रूप में लिया जाता है।

प्रश्न 6.
एक परमाणु को आँखों द्वारा देखना क्यों संभव नहीं होता है ?
उत्तर-
परमाणु बहुत सूक्ष्म होते हैं। ये किसी भी वस्तु जिसकी हम कल्पना या तुलना कर सकते हैं, से भी बहुत छोटे होते हैं। लाखों परमाणुओं को जब एक के ऊपर एक चट्टे के रूप में रखें, तो बड़ी कठिनाई से कागज की एक शीट जितनी मोटी परत बन पाएगी। परमाणु का आकार लगभग 10-10 m होता है
अतः हम इसे नगण्य मान सकते हैं जिसे आँखों द्वारा नहीं देख सकते।

प्रश्न 7.
निम्न यौगिकों के आणविक द्रव्यमान को परिकलन कीजिए :
H2, O2, Cl2, CO2, CH4, C2H6, C2H4, NH3 एवं CH3OH
उत्तर-
(i) H2 का आणविक द्रव्यमान = 2 x 1 = 2u.
(ii) O2 को आणविक द्रव्यमाने = 2 x 16 = 32u.
(iii) Cl2 का आणविक द्रव्यमान 2 x 35.5 = 71u.
(iv) CO2 को आणविक द्रव्यमान = 12 + 2 x 16 = 12 + 32 = 44u.
(v) CH4 को आणविक द्रव्यमान = 12 + 4 x 1 = 12 + 4 = 16u.
(vi) C2H6 को द्रव्यमान = 2 x 12 + 6 x 1 = 24 + 6 = 30u.
(vii) C2H4 का आणविक द्रव्यमान = 2 x 12 + 4 x 1 = 24 + 4 = 28u.
(viii) NH3 को आणविक द्रव्यमान = 14 + 3 x 1 = 14 + 3 = 17u.
(ix) CH3OH का आणविक द्रव्यमान = 12 + 3 x 1 + 16 + 1 = 12 + 3 + 16 + 1 = 32u.

प्रश्न 8.
निम्नलिखित यौगिकों के सूत्र इकाई द्रव्यमान का परिकलन कीजिए-
ZnO, Na2O, K2CO3.
दिया गया है।
Zn का परमाणु द्रव्यमान = 65u
Na का परमाणु द्रव्यमान = 23u
K का परमाणु द्रव्यमान = 39u
C का परमाणु द्रव्यमान = 12u
O का परमाणु द्रव्यमान = 16u
उत्तर-
(i) ZnO का सूत्र इकाई द्रव्यमान = 65 + 16 = 81u.
(ii) Na2O का सूत्र इकाई द्रव्यमान = 2 x 23 + 16 = 46 + 16 = 62 u.
(iii) K2SO3 का सूत्र इकाई द्रव्यमान = 2 x 39 + 12 + 3 x 16 = 78 + 12 + 48 = 138 u.

प्रश्न 9.
किसमें अधिक परमाणु होंगे : 100 g सोडियम अथवा 100 g लोहा (Fe) ? (Na का परमाणु द्रव्यमान = 23 u, Fe का परमाणु द्रव्यमान = 56 u)
हल-
1 मोल सोडियम का द्रव्यमान = 23 g
100 g सोडियम में मोलों की संख्या =

= 4.35 मोल।
1 मोल लोहे की द्रव्यमान = 56 g
100 g लोहे में मोलों की संख्या = = 1.8 मोल
क्योंकि 100 g सोडियम में मोलों की संख्या 100 g लोहे में मोलों की संख्या से अधिक है
अतः 100 g सोडियम में अधिक परमाणु होंगे।

प्रश्न 10.
3.0g कार्बन 8.00g ऑक्सीजन में जलकर 11.00g कार्बन डाइऑक्साइड निर्मित करता है। जब 3.00g कार्बन को 50.0g ऑक्सीजन में जलाया जाता है तो कितने ग्राम कार्बन डाइऑक्साइड का निर्माण होगा। आपका उत्तर रासायनिक संयोजन के किस नियम पर आधरित होगा ?
उत्तर-
क्योंकि 3.0g कार्बन 8.0g ऑक्सीजन में जलाया जाता है तो 11.0g कार्बन डाइऑक्साइड प्राप्त होती है इसलिए 3.0g कार्बन को जब 50.0g ऑक्सीजन में जलाया जाएगा तो वह केवल 8.0g ऑक्सीजन के साथ संयोग करके 11.0g कार्बन डाइऑक्साइड बनाएगा। शेष (50 – 8 = 42g) ऑक्सीजन बिना अभिक्रिया करे बची रहेगी। यह संहति के स्थिर अनुपात के नियम के अनुरूप है।

प्रश्न 11.
निम्नलिखित पदार्थों के मोलर द्रव्यमान का परिकलन कीजिए :
(a) एथाइन (C2H2)
(b) सल्फर अणु (S8)
(c) फॉस्फोरस अणु (P4) (फॉस्फोरस का परमाणु द्रव्यमान = 31)
(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (HCl)
(e) नाइट्रिक अम्ल (HNO3).
उत्तर-
(a) एथाइन (C2H2) का मोलर द्रव्यमान = (12 x 2) + (1 x 2) = 24 + 2 = 26 g
(b) सल्फर (S8) अणु का मोलर द्रव्यमान = 32 x 8 = 256 g
(c) फॉस्फोरस अणु (P4) का मोलर द्रव्यमान = 31 x 4 = 124 g
(d) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (HCl) का मोलर द्रव्यमान = 1 + 35.5 = 36.5 g
(e) नाइट्रिक अम्ल (HNO3) का भोलर द्रव्यमान = 1 + 14 + (3 x 16) = 1 + 14 + 48 = 63 g.

प्रश्न 12.
निम्नलिखित का द्रव्यमान क्या होगा :
(a) एक मोल नाइट्रोजन परमाणु?
(b) 4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु (ऐलुमिनियम का परमाणु द्रव्यमान = 27)?
(c) 10 मोल सोडियम सल्फाइट (Na2SO3)?
हल-
(a) एक मोल नाइट्रोजन परमाणु = नाइट्रोजन परमाणु का मोलर द्रव्यमान = 14g
(b) एक मोल ऐलुमिनियम परमाणु = ऐलुमिनियम परमाणु का मोलर द्रव्यमान = 27g
4 मोल ऐलुमिनियम परमाणु का मोलर द्रव्यमान = 27 x 4 = 108g
(c) एक मोल Na2SO3 का द्रव्यमान = (23 x 2) + (1 x 32) + (16 x 3) = 46 + 32 + 48 = 126g

प्रश्न 13.
निम्न को द्रव्यमान क्या होगा :
(a) 0.2 मोल ऑक्सीजन परमाणु ?
(b) 0.5 मोल जल के अणु ?
उत्तर-
(a) ऑक्सीजन के परमाणु मोल की संख्या = 0.2
ऑक्सीजन के परमाणु का मोलर द्रव्यमान = 16 g
ऑक्सीजन के परमाणु के 0.2 मोल का द्रव्यमान = 16 x 0.2 = 3.2 g
(b) जले के मोलों की संख्या = 0.5
जल का मोलर द्रव्यमान = 2 + 16 = 18 g
0.5.मोल पानी का द्रव्यमान = 18 x 0.5 = 9.0 g.

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े अति लघु उत्तरीय प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules in Hindi Short Question and Answer in Hindi

प्रश्न 1.
आवोगाद्रो स्थिरांक से क्या समझते हो ?
उत्तर-
एक मोल कणों की संख्या 6.022 x 1023 को आवोगाद्रो स्थिरांक कहते हैं।

प्रश्न 2.
रासायनिक संयोजन के नियमों को सर्वप्रथम किसने प्रतिपादित किया ?
उत्तर-
एन्टोनी एल. लेवॉशिये एवं जोसेफ एल. प्राउस्ट ने प्रतिपादित किया था।

प्रश्न 3.
2H तथा H2 में क्या अन्तर है ?
उत्तर-
2H, हाइड्रोजन के 2 परमाणु प्रदर्शित करती है तथा H2 हाइड्रोजन का एक अणु प्रदर्शित करती है।

प्रश्न 4.
एक amu या ‘u’ क्या है ?
उत्तर-
कार्बन (C-12) का

वाँ द्रव्यमान amu या (unified mass) कहलाता है।

प्रश्न 5.
किस भारतीय दार्शनिक ने पदार्थ के अविभाज्य कण को ‘परमाणु’ कहा?
उत्तर-
महर्षि कणाद ने।

प्रश्न 6.
द्रव्यमान संरक्षण का नियम क्या है ?
उत्तर-
किसी भी अभिक्रिया में, अभिकारकों और उत्पादों के द्रव्यमानों का योग अपरिवर्तनीय रहता है।
यह द्रव्यमान संरक्षण का नियम है।

प्रश्न 7.
किसी पदार्थ का आणविक द्रव्यमान क्या
उत्तर-
किसी पदार्थ का आणविक द्रव्यमान उसके सभी संघटक परमाणुओं के द्रव्यमान का योग होता है।

प्रश्न 8.
‘सूत्र इकाई द्रव्यमान’ क्या है ?
उत्तर-
किसी पदार्थ का सूत्र इकाई द्रव्यमान’ उसके सभी संघटक परमाणुओं के परमाणु द्रव्यमानों का योग होता है।

प्रश्न 9.
एक आयन क्या है ?
उत्तर-
एक परमाणु या परमाणुओं का समूह, जो आवेशित हो, आयन कहलाता है।

प्रश्न 10.
Na तथा Na+ में क्या अन्तर है ?
उत्तर-
Na सोडियम का परमाणु तथा Na+ सोडियम का आयन है।

प्रश्न 11.
He तथा P4 की परमाणुकता क्या है ?
उत्तर-
He की परमाणुकता 1 तथा P4 की परमाणुकता 4 है।

प्रश्न 12.
1 नैनोमीटर को मीटर में व्यक्त कीजिए।
उत्तर-
1 नैनोमीटर = 10-9 मीटर

प्रश्न 13.
अमोनियम क्लोराइड का सूत्र लिखिए।
उत्तर-
अमोनियम क्लोराइड का सूत्र NH4Cl है।

प्रश्न 14.
मोलर द्रव्यमान से क्या समझते हो?
उत्तर-
किसी पदार्थ के एक मोल के ग्राम में व्यक्त द्रव्यमान को मोलर द्रव्यमान कहते हैं।

प्रश्न 15.
संयोजकता से क्या समझते हो?
उत्तर-
किसी परमाणु या मूलक की संयोजन क्षमता को संयोजकता कहते हैं।

प्रश्न 16.
प्रत्येक का एक उदाहरण दीजिए
(i) त्रिपरमाणुक अणु
(ii) बहुपरमाणुक अणु
उत्तर-
(i) O3
(ii) S8

प्रश्न 17.
हाइड्रोजन गैस के 1 मोल में कितने H2O अणु होते हैं ?
उत्तर-
हाइड्रोजन गैस के 1 मोल में 6.022 x 1023 H2O अणु होते हैं।

प्रश्न 18.
निम्नलिखित यौगिकों के रासायनिक सूत्र लिखिए
(i) सल्फ्यूरिक अम्ल
(ii) कैल्शियम हाइड्रॉक्साइड।
उत्तर-
(i) H2SO4
(ii) Ca(OH)2

प्रश्न 19.
ऑक्सीजन का परमाणु द्रव्यमान 16u है, O2 का मोलर द्रव्यमान क्या है?
उत्तर-
O2 का आणविक द्रव्यमान = 16 x 2 = 32u
अतः O2 का मोलर द्रव्यमान = 32 g.

प्रश्न 20.
A2+ तथा Y के संयोग से बने यौगिक का सूत्र लिखिए।
उत्तर-
AY2.

प्रश्न 21.
निम्नलिखित द्वारा उत्पन्न यौगिकों का सूत्र और नाम लिखिए
(i) Fe3+ और

(ii) NH4+ और
उत्तर-
(i) Fe2(SO4)3 आयन (III) सल्फेट
(ii) (NH4)2 CO3 अमोनियम कार्बोनेट।

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े लघु उत्तरीय प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules in Hindi Long Question and Answer in Hindi

प्रश्न 1.
(a) परिभाषित कीजिए :
(i) एक मोल
(ii) आवोगाद्रो स्थिरांक
(b) S8 अणु का मोलर द्रव्यमान ज्ञात कीजिए। (परमाणु द्रव्यमान S = 32 u)
उत्तर-
(a) (i) एक मोल : किसी पदार्थ का एक मोल उसकी वह मात्रा है जिसमें उतने ही कण उपस्थित होते हैं, जितने कार्बन -12 समस्थानिक के ठीक 12 ग्राम (या 0.012 kg) में परमाणुओं की संख्या होती है।
(ii) आवोगादो स्थिरांक : कार्बन-12 के ठीक 12 g में परमाणुओं की संख्या 6.023 x 1023 है।
यह 6.023 x 1023 संख्या आवोगाद्रो स्थिरांक कहलाती है।
(b) सल्फर (S8) अणु का मोलर द्रव्यमान = 8 x 32 = 256 u

प्रश्न 2.
डॉल्टन के परमाणु सिद्धान्त की उन दो अवधारणाओं को लिखिए जो कि :
(i) द्रव्यमान संरक्षण के नियम, तथा
(ii) स्थिर अनुपात के नियम की व्याख्या करती हों।
उत्तर-
(i) परमाणु अविभाज्य सूक्ष्मतम कण होते हैं। जो रासायनिक अभिक्रिया में न तो सृजित होते हैं, न ही उनका विनाश होता है।
(ii) किसी भी यौगिक में परमाणुओं की सापेक्ष संख्या एवं प्रकार निश्चित होते हैं।

प्रश्न 3.
आवोगाद्रो स्थिरांक को परिभाषित कीजिए। यह मोल से कैसे सम्बन्धित है ?
उत्तर-
आवोगाद्रो स्थिरांक, किसी भी पदार्थ के एक ग्राम अणु में अणुओं की वास्तविक संख्या को कहते हैं। इसका मान 6.022 x 1023 कण हैं।
1 मोल = 6.022 x 1023 संख्या

प्रश्न 4.
(a) बहुपरमाणुक आयन क्या हैं ?
(b) (i) Fe3+ तथा

(ii) NH4+ तथा के संयोग से बने यौगिकों के नाम तथा सूत्र लिखिए।
उत्तर-
(a) परमाणुओं का समूह जिस पर आवेश होता है, बहुपरमाणु आयन कहलाते हैं।
उदाहरण : कार्बनिक आयन,
(b) (i) Fe2(SO4)3 आयरन सल्फेट,
(ii) (NH4)2 CO3 अमोनियम कार्बोनेट।

प्रश्न 5.
(a) उस संस्था का नाम बताइए जो तत्त्वों के नामों को स्वीकृति प्रदान करती है।
(b) सोडियम का प्रतीक Na लिखा जाता है और S नहीं। कारण दीजिए।
(c) एक तत्त्व का नाम बताइए जो द्विपरमाणुक अणु तथा एक तत्त्व जो चतुर्परमाणुक अणु बनाता है।
उत्तर-
(a) आजकल इंटरनेशनल यूनियन ऑफ प्योर एंड एप्लाइड कैमिस्ट्री (IUPAC) तत्त्वों के नामों को स्वीकृति प्रदान करती है।
(b) सोडियम का प्रतीक लैटिन नाम नैट्रियम से व्युत्पन्न किया गया है। इसलिए सोडियम को Na लिखा गया है।
(c) (i) तत्त्व जो द्वि-परमाणुक अणु बनाता हैहाइड्रोजन (H2)।
(ii) तत्त्व जो चतुर्परमाणुक अणु बनाता है- फास्फोरस (P4)।

प्रश्न 6.
परमाणु क्या है ? परमाणु आकार में कितने बड़े हैं ? उसका महत्व बताइए।
उत्तर-
परमाणु किसी तत्त्व का सूक्ष्मतम कण है, जिसका अपना अस्तित्त्व है और यह तत्त्वे के सभी गुणधर्म प्रदर्शित करता है। यह द्रव्य की रचनात्मक इकाई है।
परमाणु बहुत सूक्ष्म होता है। हाइड्रोजन के एक परमाणु की त्रिज्या 10-10 m या 0.1 nm है- ‘nm’ को हम नैनोमीटर बोलते हैं।
1 nm = 10-9 मीटर
परमाणु का महत्त्व : निश्चय ही परमाणु अत्यंत सूक्ष्म हैं, फिर भी महत्त्वहीन नहीं हैं। वे द्रव्य की रचनात्मक इकाई हैं और विभिन्न द्रव्य अलग-अलग तरह के परमाणुओं से निर्मित होते हैं।

प्रश्न 7.
डाल्टन का परमाणु सिद्धान्त लिखिए।
उत्तर-
जॉन डाल्टन (John Dalton) ने अनेक यौगिकों के संघटन का अध्ययन किया और 1803 में निम्न | सिद्धान्त का प्रतिपादन किया जो डाल्टन के परमाणु सिद्धांत के नाम से जाना जाता है
(i) सभी द्रव्य अतिसूक्ष्म कणों से मिलकर बने हैं, जिन्हें परमाणु (Atom) कहते हैं। परमाणु अविभाज्य है, अर्थात् इसे अन्य छेटे कणों में विभाजित नहीं किया जा सकता।
(ii) किसी तत्त्व विशेष के सभी परमाणु, भार (द्रव्यमान) व रासायनिक गुणधर्म में समान होते हैं, लेकिन विभिन्न तत्त्वों के परमाणु, भारे (द्रव्यमान) व रासायनिक गुणधर्म में अलग-अलग होते हैं।
(iii) तत्त्वों के परमाणुओं के विभिन्न प्रकार से संयोग करने से विभिन्न प्रकार के सरल व जटिल पदार्थ बनते हैं।
(iv) किसी रासायनिक अभिक्रिया के फलस्वरूप न तो परमाणुओं का सृजन किया जा सकता है न विनाश।
(v) किसी यौगिक में संयोग करने वाले परमाणुओं की संख्या निश्चित रहती है।

प्रश्न 8.
निम्न के अणु द्रव्यमान एवं एक मोल की गणना कीजिए-
(i) NaOH
(ii) CaCO3
(iii) (NH4)2SO4
उत्तर-
(i) NaOH का अणु द्रव्यमान। = Na का परमाणु द्रव्यमान x 1 + O का परमाणु द्रव्यमान x 1 + H का परमाणु द्रव्यमान x 1
= 23 x 1 + 16 x 1 + 1 x 1 = 23 + 16 + 1 = 40 u
NaOH का एक मोल = 40 ग्राम
(ii) CaCO3 का अणु द्रव्यमान = Ca का परमाणु द्रव्यमान x 1 + C का परमाणु द्रव्यमान x 1 + O का परमाणु द्रव्यमान x 3
= 40 x 1 + 12 x 1 + 16 x 3 = 40 + 12 + 48 u = 100
CaCO3 का एक मोल = 100 ग्राम
(iii) (NH4)2 SO4 का अणु द्रव्यमान = (N का परमाणु द्रव्यमान x 1 + H का परमाणु द्रव्यमान x 4) x 2 + S का परमाणु द्रव्यमान x 1 + O का परमाणु द्रव्यमान x 4
= (14 x 1 + 1 x 4) x 2 + 32 x 1 + 16 x 4
= (14 + 4) x 2 + 32 + 64
= 18 x 2 + 32 + 64
= 36 + 32 + 64
= 132 u
(NH4)2SO4 को एक मोल = 132 ग्राम

प्रश्न 8.
स्थिर अनुपात का नियम क्या है ? उदाहरण सहित समझायें।
उत्तर-
स्थिर अनुपात का नियम (Law of Constant Proportion) : प्राउस्ट (Proust 1779 के अनुसार, “किसी यौगिक में दो या अधिक तत्त्व एक निश्चित अनुपात में संयोजन करते हैं।”
अथवा
“किसी रासायनिक यौगिक में तत्त्व हमेशा द्रव्यमानों के निश्चित अनुपात में विद्यमान होते हैं।”
उदाहरण के लिए अगर हम जल किसी भी स्रोत नदी, तालाब, झरना आदि से लें। शुद्ध जल में 1 ग्राम हाइड्रोजन सदैव 8 ग्राम ऑक्सीजन से संयोग करती है या हम कह सकते हैं कि हाइड्रोजन व ऑक्सीजन के द्रव्यमानों में 1 : 8 अनुपात होता है।
इसी प्रकार, कार्बन डाइऑक्साइड हम किसी भी तरह उत्पादित करें जैसे :
(i) किसी ईंधन या कोयले के दहन से
(ii) चूना पत्थर को गर्म करके
(iii) संगमरमर पर तनु अम्ल की अभिक्रिया से
(iv) श्वसन द्वारा।
कार्बन डाइऑक्साइड में कार्बन और ऑक्सीजन के द्रव्यमानों में 3 : 8 का अनुपात होगा।

प्रश्न 9.
एक प्रयोग में 1.5 g हाइड्रोजन जलने पर 13.5 g जल उत्पन्न करती है और दूसरे प्रयोग में 3.6 g जल का विद्युत अपघटन करने पर 0.4g हाइड्रोजन व 3.2 g ऑक्सीजन प्राप्त होती है। दिखाइए कि उपर्युक्त आँकड़े स्थिर अनुपात के नियम का अनुमोदन करते हैं।
उत्तर-
I. हाइड्रोजन का द्रव्यमान = 1.5 g
जल का द्रव्यमान = 13.5 g
ऑक्सीजन का द्रव्यमान = 13.5 – 1.5 = 12.0 g
अतः 1.5 g हाइड्रोजन अभिक्रिया करती है 12.0 g ऑक्सीजन से
1.0 g हाइड्रोजन अभिक्रिया करती है। =

= 8.0 g ऑक्सीजन से

  1. हाइड्रोजन का द्रव्यमान = 0.4 g
    ऑक्सीजन का द्रव्यमान = 3.2 g
    अत: 0.4 g हाइड्रोजन अभिक्रिया करती है 3.2 g ऑक्सीजन से
    1.0 g हाइड्रोजन अभिक्रिया करती है =

= 8.0 g ऑक्सीजन से
अतः दोनों ही प्रेक्षणों में 1 g हाइड्रोजन 8 g ऑक्सीजन से संयोग करती है। उपर्युक्त आँकड़े स्थिर अनुपात के नियम का अनुमोदन करते हैं।

प्रश्न 10.
ऑक्सीजन गैस के कितने ग्रामों में अणुओं की वही संख्या होती है जितनी कि सल्फर डाइऑक्साइड के 16 ग्रामों में होती है? (O = 16 u, S = 32 u)।
हल-
यह समस्या इस तथ्य के प्रयोग से हल होगी कि सभी गैसों के समान मोलों में अणुओं की समान संख्या होती है। पहले हम सल्फर डाइऑक्साइड के 16 ग्रामों को मोलों में परिवर्तित करते हैं।
सल्फर डाइऑक्साइड, SO2 का 1 मोल। = S का द्रव्यमान + 2 ‘O’ का द्रव्यमान = 32 + 2 x 16 = 64 ग्राम
अब, सल्फर डाइऑक्साइड के 64 g = 1 मोल
इसलिए, सल्फर डाइऑक्साइड के 16 g =

x 16 मोल = मोल
अब, सल्फर डाइऑक्साइड के मोल में अणुओं की वही संख्या होगी जो ऑक्सीजन के मोल में होगी।
इसलिए, हमें अब ऑक्सीजन के मोल को ग्रामों में द्रव्यमान में परिवर्तित करना चाहिए।
ऑक्सीजन, O2 का एक मोल = 2 ‘O’ परमाणुओं का द्रव्यमान = 2 x 16 = 32 ग्राम।
अब, ऑक्सीजन का 1 मोल = 32 ग्राम
इसलिए, ऑक्सीजन का मोल = 32 x ग्राम = 8 ग्राम।
अतः ऑक्सीजन के 8 ग्रामों में अणुओं की वही संख्या होगी जितनी कि सल्फर डाइऑक्साइड के 16 ग्रामों में होगी।

प्रश्न 11.
निऑन के कितने ग्रामों में, परमाणुओं की वही संख्या होगी, जो कैल्सियम के 4 ग्रामों में परमाणुओं की संख्या होती है ? (आणविक द्रव्यमान : Ne = 20 u; Ca = 40 u)
हल-
इस प्रकार की समस्याओं को हल करने के लिए हमें याद रखना चाहिए कि सभी तत्त्वों के मोलों की समान संख्या में परमाणुओं की समान संख्या होती है।”
(i) हम पहले कैल्सियम के 4 ग्रामों को मोलों में परिवर्तित करते हैं। हमें दिया गया है कि कैल्सियम का परमाण्विक द्रव्यमान 40 u है, इसलिए कैल्सियम का 1 मोल, 40 ग्राम है।
अब, कैल्सियम के 40 g = 1 मोल
इसलिए, कैल्सियम के 4g =

x 4 मोल = मोल
अब, कैल्सियम के मोल में परमाणुओं की उतनी ही संख्या होगी, जितनी कि निऑन के मोल में परमाणुओं की संख्या होगी। इसलिए, हमें अब निऑन के मोलों को ग्रामों में द्रव्यमान में परिवर्तित करना होगा।
(ii) निऑन का परमाण्विक द्रव्यमान 20 u है, इसलिए निऑन का 1 मोल 20 ग्रामों के बराबर होगा।
अब, निऑन का 1 मोल = 20 g
इसलिए, निऑन का मोल = 20 x g = 2 g
अतः निऑन के 2 ग्राम में परमाणुओं की उतनी ही संख्या होगी, जितनी कि कैल्सियम के 4 ग्रामों में है।

परमाणु एवं अणु क्या है इससे जुड़े अति बहुविकल्पीय प्रश्न और उनके उत्तर

Atoms And Molecules Objective Question and Answer in Hindi

Q1. नाइट्रोजन का रासायनिक संकेत है
(a) Ni
(b) N2
(c) N+
(d) N

Q 2. सोडियम का रासायनिक संकेत है
(a) SO
(b) Sd
(c) NA
(d) Na

Q 3. निम्नलिखित में से कौन सबसे अधिक भारी है?
(a) सूक्रोस (C12H22O11) के 0.2 मोल
(b) CO) के 2 मोल
(c) CaCO3 के 2 मोल
(d) H2O के 10 मोल

Q 4. निम्नलिखित में से किसमें परमाणुओं की संख्या अधिकतम होती है?
(a) H2O के 18 g
(b) O2 के 18 g
(c) CO2 के 18 g
(d) CH4 के 18 g

Q 5. डाल्टन ने प्रतिपादित किया कि
(a) द्रव्य सूक्ष्म कणों का बना है जिन्हें परमाणु कहते हैं।
(b) परमाणु अविभाज्य है जिनका सृजन व विनाश संभव नहीं है।
(c) किसी तत्त्व के सभी परमाणु समान रासायनिक प्रकृति के होते हैं।
(d) उपर्युक्त सभी।

Q 6. हाइड्रोजन परमाणु की त्रिज्या है
(a) 10-6 m
(b) 10-10 m
(c) 1 mm
(d) 1010 m.

Q 7. 1 nm बराबर है
(a) 10-6 m के
(b) 10-10 m
(c) 10-9 m के
(d) 1010 m के

Q 8. कैल्सियम का प्रतीक है
(a) Cu
(b) Cl
(c) Ca
(d) Cm

Q 9. यदि ऑक्सीजन का परमाणु द्रव्यमान 16 है तो ऑक्सीजन गैस के 1 मोल का द्रव्यमान होगा
(a) 44u
(b) 32 ग्राम
(c) 16 u
(d) 16 ग्राम

Q 10. पानी का ग्राम अणु द्रव्यमान है
(a) 18 u
(b) 18 ग्राम
(c) 32 u
(d) 32 ग्राम

Q 11. 1.6 g CH4 का STP पर आयतन होगा
(a) 2.24 L
(b) 4.48 L
(c) 11.2 L
(d) 1.12 L

Q 12. A2+ व B के संयोजन से बने यौगिक का सूत्र है
(a) A2B
(b) A2B2
(c) AB
(d) AB2

Q 13. Al3+

से बने यौगिक का सूत्र है
(a) Al2(SO4)3
(b) Al(SO4)3
(c) Al3(SO4)2
(d) AlSO4

Q 14. O2 की परमाणुकता है|
(a) 4
(b) 3
(c) 2
(d) 1

Q 15. कॉपर की परमाणुकता है|
(a) 4
(b) 3
(d) 1

Q 16. आयरन का प्रतीक है
(a) I
(b) Ir
(c) Fe
(d) Fn

Q 17. C प्रतीक है
(a) कार्बन का
(b) कॉपर का
(c) कैल्सियम का
(d) क्लोरीन का

Q 18. किसी यौगिक के 1 मोल में अणुओं की संख्या होगी
(a) 6.022 x 1024
(b) 6.022 x 1022
(c) 6.022 x 1021
(d) 6.022 x 1023

Q 19. यदि जल का अणु द्रव्यमान 18 u है तो 1.8 ग्राम जल में अणुओं की संख्या होगी
(a) 6.022 x 1024
(b) 6.022 x 1022
(c) 6.022 x 1021
(d) 6.022 x 1023

Q 20. H2 गैस के 2 मोलों का द्रव्यमान होगा
(a) 2 ग्राम
(b) 1 ग्राम
(c) 4 ग्राम
(d) 4 u

Q 21. CO2 का ग्राम अणु द्रव्यमान है
(a) 44
(b) 44u
(c) 44 ग्राम
(d) उपर्युक्त सभी

उत्तरमाला

  1. (b)
  2. (d)
  3. (c)
  4. (d)
  5. (d)
  6. (b)
  7. (c)
  8. (c)
  9. (b)
  10. (b)
  11. (a)
  12. (d)
  13. (a)
  14. (c)
  15. (d)
  16. (c)
  17. (a)
  18. (d)
  19. (b)
  20. (c)
  21. (b)
Rate this post

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Career

Most Popular

Categories

Jobs

B.Ed Special education Kya Hai B.Ed Special Education Kaise Kare

B.Ed Special Education Course Kya Hai – जानिए B.Ed Special Education Kaise Kare

1
आज हम आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण आर्टिकल लेकर आए हैं, जो छात्र अपंग होते हैं या फिर विकलांग होते हैं उनको चिंता करने...
MDS kya hai MDS Course Kaise Kare

MDS Course क्या है | Master Of Dental Service Course कोर्स कैसे करे

0
इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने जा रहे हैं कि MDS Course Kya Haiऔर MDS Course Kaise Kare तथा MDS Course Ke...
College Professor Kaise Bane How To Become Collage Professor In Hindi

कॉलेज प्रोफेसर कैसे बने और कॉलेज प्रोफेसर बनने के लिए तैयारी कैसे करे

1
आज हम आपको बताने वाले हैं कि College Professor Kaise Bane, Eligibility For Collage Professor In Hindi, Age Limit For Collage Professor In Hindi सभी...
D.EL.ED Course Kya Hai D.EL.ED Kaise Kare

D.EL.ED Course क्या है | डी एल एड के लिए योग्यता और तैयारी

8
D.EL.ED एक Teaching Course होता है, जो कि 2 साल का होता है और इसे करने के पश्चात आप सरकारी टीचर बनने के लिए...
Diploma in Chemical Engineering Kya Hai - Diploma In Chemical Engineering Kaise Kare

Diploma in Chemical Engineering Kya Hai | डिप्लोमा इन केमिकल इंजिनयरिंग की तैयारी कैसे...

0
आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको Chemical Engineering की जानकारी देंगे,की Diploma in Chemical Engineering Kaise Kare तथा Diploma in Chemical Engineering...
Content Writer Kaise Bane Hindi Content Writer Banne Ka Tarika.pptx

Content Writer कैसे बने | हिन्दी कंटैंट रायटर बनने का तरीका

0
अगर आपको लिखने का  शौक अधिक है, और अगर आप अपने इस शौक को कमाई में बदलना चाहते है, मतलब की आप अपने लेखन...
Anganwadi Worker Kaise Bane Eligibility For Anganwadi Worker In Hindi

आँगनवाड़ी वर्कर कैसे बने | आँगनवाड़ी वर्कर बनने के लिए योग्यता और इसकी तैयारी

0
आज हम आपको बताने वाले हैं, कि Anganwadi Worker Kaise Bane, Anganwadi Me Kam Kaise Kare, Anganwadi Kya Hai, Qualification For Anganwadi Worker, Anganwadi...
Patwari Kya Hota Hai Patwari Kaise Bane

पटवारी की तैयारी कैसे करे | पटवारी कैसे बने

0
जैसा कि आप सभी जानते ही हैं कि हर किसी व्यक्ति का अपने जीवन में हैं एक अलग सपना होता है हर कोई अपने...
close button