आँगनवाड़ी वर्कर कैसे बने | आँगनवाड़ी वर्कर बनने के लिए योग्यता और इसकी तैयारी

आज हम आपको बताने वाले हैं, कि Anganwadi Worker Kaise Bane, Anganwadi Me Kam Kaise Kare, Anganwadi Kya Hai, Qualification For Anganwadi Worker, Anganwadi Worker Ki Salary Kitni Hoti Hai आज हम आपको इन सभी प्रश्नों के उत्तर देंगे और हम आपको बहुत ही सरल भाषा में समझाएंगे की Anganwadi Worker Kaise Bane.

ज्यादातर भारत में हर एक व्यक्ति ने आंगनवाड़ी के बारे में कभी ना कभी अवश्य सुना ही होगा, आंगनवाड़ी हर शहर हर गांव में होती है, आंगनवाड़ी के माध्यम से सरकार के द्वारा गरीब बच्चों का ध्यान रखा जाता है और गरीब बच्चों को कुपोषण का शिकार होने से बचाया जाता है, भारत में आंगनवाड़ी 1985 ईस्वी में स्थापित की गई थी, आंगनवाड़ी में काम करने वाले को Anganwadi Teacher भी कहा जाता है।

यदि गांव में पढ़ी-लिखी महिलाएं हैं और वह यदि घर पर ही रहती हैं तो उनके लिए अच्छा अवसर है, कि वह आंगनवाड़ी में काम कर सकती हैं, चलिए अब जानते हैं Anganwadi Kya Hai Hindi Me, Anganwadi Karyakarta Kaise Bane, Angawadi Worker Kaise Bane.

Anganwadi Kya Hoti Hai ( What Is Anganwadi In Hindi )

Anganwadi Worker Kaise Bane Eligibility For Anganwadi Worker In HindiAnganwadi Teacher Kaise Bane यह जाने से पहले हमें यह जानना बहुत जरूरी है कि Anganwadi Kya Hai, सन 1985 में आंगनवाड़ी की स्थापना बाल विकास योजना के अंतर्गत की गई थी, जिसका मकसद था बच्चों को कुपोषण का शिकार होने से बचाना और गरीब भूखे बच्चों का पेट भरना, आंगनवाड़ी के द्वारा गांव को अच्छा स्वास्थ्य प्रदान किया जाता है।

आंगनवाड़ी Indian Public Health Care System का हिस्सा है, आपने अक्सर देखा होगा कि बच्चों को स्कूल में दाखिला दिलाने से पहले उन्हें प्ले स्कूल में दाखिला दिलाया जाता है, ताकि उनको उठना बैठना आ सके अक्सर गरीब बच्चे जोकि प्लेस पूरा खर्चा नहीं उठा सकते उन्हें आंगनवाड़ी में दाखिला दिलाया जाता है.

आंगनवाड़ी में उन्हें उठना बैठना सिखाया जाता है, और प्रारंभिक शिक्षा भी दी जाती है, आंगनवाड़ी में बच्चों को खेलना कूदना अक्षरों का ज्ञान तथा खाना पीना सब अच्छी तरह सिखाया जाता है, आंगनवाड़ी में जो देखभाल करती है उसे हम Anganwadi Teacher या फिर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कह सकते हैं इसके अतिरिक्त एक आंगनवाड़ी सहायक महिला भी होती है, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की मदद करने के लिए,

आंगनवाड़ी केंद्र में 3 साल से लेकर 6 साल की उम्र तक के बच्चों की प्रारंभिक परीक्षा, स्वास्थ्य तथा पोषण किया जाता है, बच्चों के साथ-साथ ग्रामीण गर्भवती महिलाओं के रेगुलर चैकअप की जिम्मेदारी भी आंगनवाड़ी की होती है, गांव में गर्भवती महिला की पूरी जिम्मेदारी आंगनवाड़ी की होती है, ज्यादातर आंगनवाड़ी को हमेशा गांव के बीचो-बीच बनाया जाता है, ताकि गांव के बच्चे वहां पर आकर खेल भी सके।

भारत सरकार की तरफ से हर एक आंगनवाड़ी के लिए बजट पास किया जाता है, जिस किसी गांव में भी 400 से 800 लोगों की जनसंख्या है वहां पर आंगनवाड़ी केंद्र बनाया जा सकता है, एक गांव में एक से अधिक आंगनवाड़ी केंद्र भी आसानी से हो सकते हैं.

आंगनवाड़ी केंद्र में उपलब्ध कराई जाने वाली सेवाएं

  • 6 वर्ष से कम आयु के बच्चे के टीकाकरण की जिम्मेवारी आंगनवाड़ी की होती है, यदि कहीं पर भी कोई बच्चा पैदा हुआ है, तो उसके टीकाकरण से संबंधित सभी जिम्मेवारी आंगनवाड़ी की होती है.
  • 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों को कुपोषण का शिकार होने से बचाना आंगनवाड़ी का मुख्य काम है, इस काम के लिए आंगनवाड़ी को सरकार की तरफ से सब सुविधाएं मिलती हैं, कि वह बस किसी भी तरह बच्चों को कुपोषण से बचा सके.
  • गर्भवती महिलाओं की जिम्मेदारी भी आंगनवाड़ी पर होती है, गर्भवती महिलाओं को जो भी टीके लगते हैं, वह आंगनवाड़ी द्वारा मुफ्त में उपलब्ध कराए जाते हैं.
  • गरीब बच्चों को भोजन की सुविधा उपलब्ध कराना भी आंगनवाड़ी की जिम्मेदारी होती है.

Also Read :-

Anganwadi Worker Kaise Bane ( आंगनवाड़ी वर्कर कैसे बन सकते हैं)

आप यदि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बनना चाहती हैं तो हम आपको बता दें सरकार के द्वारा कुछ योग्यता निर्धारित की गई है आपकी योग्यता उसी हिसाब से होनी चाहिए तभी आप आंगनवाड़ी में काम कर पाएंगे चलिए अब हम जानते हैं Eligibility For Anganwadi Worker In Hindi.

Anganwadi Worker Ke Liye Qualification ( Eligibility For Anganwadi Worker In Hindi )

जो महिला आवेदन कर रही है वह महिला जिस राज्य में आवेदन कर रही है, वह महिला उसी राज्य की रहने वाली होनी चाहिए,

महिला की उम्र कम से कम 21 साल से लेकर 45 साल के बीच में ही होनी चाहिए, इससे कम उम्र या ज्यादा उम्र की महिला यदि जनरल कैटेगरी से है, तो आवेदन नहीं दे सकती, परंतु कुछ जातियों को आयु में छूट दे दी जाती है, ओबीसी जाति को 3 साल की छूट दी जाती है, और ऐसी ऐसी कैटेगरी को 5 साल की छूट आयु में दे दी जाती है.

सबसे मुख्य बात यह है कि जो महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के रूप में आवेदन देना चाहती है, वह महिला विवाहित होने चाहिए तभी आवेदन दे सकती है.

Qualification –

यदि महिला Anganwadi Worker के रूप में कार्य करना चाहती है,तो वह दसवीं पास होनी चाहिए और यदि कोई महिला आंगनवाड़ी सहायिका के रूप में काम करना चाहती है, तो वह आठवीं पास होने चाहिए.

Selection Process Anganwadi Worker ( आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की चयन प्रक्रिया )

हम आपको बता दें की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की चयन प्रक्रिया में किसी भी तरह का कोई रिटन एग्जाम नहीं होता, परंतु इंटरव्यू अवश्य होता है और उस इंटरव्यू में कुछ अंक मिलते हैं, जो कि शैक्षणिक योग्यता के आधार पर दिए जाते हैं चलिए जानते हैं विस्तार से –

  • इंटरव्यू मैं 25 अंक तय किए गए हैं, और यह 25 अंक अलग-अलग योग्यताओं के आधार पर दिए जाते हैं.
  • 25 अंक में से 10 अंक शैक्षणिक योग्यता के आधार पर दिए जाते हैं, और 7 अंक राज्य की तरफ से निर्धारित योग्यता के अनुसार दिए जाते हैं.
  • यदि आवेदन करने वाली महिला ने ग्रेजुएशन की हुई है, तो उसको 2 अंक दिए जाते हैं.
  • पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री के लिए 1 अंक अलग से दिया जाता है.
  • यदि किसी महिला ने किसी स्कूल में पहले पढ़ाया हुआ है, तो उस महिला को 3 अंक दिए जाते हैं.
  • यदि कोई महिला पति से अलग रहती है तो उसके लिए 3 अंक दिए जाते हैं.
  • यदि कोई महिला आवेदक 40% से ज्यादा विकलांग है, तो उसके लिए 2 अंक दिए जाते हैं.
  • ओबीसी जाति और एससी एसटी जाति की महिलाओं को 2 अंक दिए जाते हैं.
  • पर्सनल इंटरव्यू के आधार पर 3 अंक दिए जाते हैं, और इसके अतिरिक्त यदि महिला आवेदक की दो बेटियां हैं, तो उसे 2 अंक दिए जाते हैं.

अब यह सब योग्यताएं देखी जाती हैं, इन सब योग्यताओं के आधार पर लिस्ट बनाई जाती है, जिन महिलाओं के अंग सबसे अधिक होते हैं, उनको Anganwadi Worker बना दिया जाता है, परंतु ऐसा भी हो सकता है, की दो या दो से अधिक महिलाओं के अंक एक समान आ जाएं यदि ऐसा होता है, तो फिर सभी महिलाओं में से जिस महिला की उम्र ज्यादा होती है, उस महिला को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बना दिया जाता है.

Anganwadi Worker Ki Salary Kitni Hoti Hai ( Salary Of Anganwadi Worker )

यदि हम बात करें कि Anganwadi Worker Ki Salary कितनी होती है, हम आपको बता दें कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की तनख्वाह ₹8000 से लेकर ₹10000 तक हो सकती है, इसके अतिरिक्त जो आंगनवाड़ी में सहायिका महिला होती है उसकी तनख्वाह ₹4000 से लेकर ₹6000 तक हो सकती है, परंतु अब सातवां वेतन आयोग लागू हो गया है, तो तनख्वाह में कुछ बढ़ोतरी भी हो सकती है.

Anganwadi Worker Ke Liye Kaise Apply Kare ( How To Apply For Anganwadi Worker )

आंगनवाड़ी वर्कर बनने के लिए बहुत ही सीधा सा प्रोसेस है यदि कोई महिला Anganwadi Teacher के लिए आवेदन देना चाहती है, तो उसको अपने नजदीकी किसी भी आंगनवाड़ी में जाना होता है, और वह वहां पर जाकर फॉर्म भर सकती है, उसके बाद जैसे ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की आवश्यकता होगी तो इंटरव्यू के लिए कॉल आ जाएगी फिर आपको इंटरव्यू पास करना है, उसके पश्चात आप आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बन जाते हैं.

इसके अतिरिक्त दूसरा प्रोसेस यह है, कि आप आंगनवाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए ऑनलाइन आवेदन भी दे सकते हैं, जिसकी संपूर्ण जानकारी आपको किसी भी कंप्यूटर सेंटर के द्वारा मिल जाएगी आप वहां से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, उसके कुछ समय पश्चात ही आपको इंटरव्यू के लिए बुला लिया जाता है, अब आपको पता लग गया होगा कि How To Apply For Anganwadi Worker In Hindi.

आशा है कि अब आपको अच्छे से समझ आ गया होगा कि Anganwadi Kya Hoti Hai, What Is Anganwadi In Hindi, Angamwadi Worker Kaise Bane, How To Become a Anganwadi Worker, Anganwadi Worker Banne Ke Liye Qualification, Salary In Anganwadi हमने आपको इन सब के बारे में विस्तार से समझाया है, और आपको यह सब अच्छे से समझ भी आ गया होगा, यदि फिर भी कोई प्रश्न ऐसा है जो आपके मन में है परंतु उसका जवाब आपको हमारी पोस्ट से नहीं मिला, तो वह प्रश्न आप हमसे कमेंट सेक्शन के द्वारा पूछ सकते हैं।

विभिन्न प्रकार के जानकारी के लिए इन पोस्ट को भी पढे :– 

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button