इंजीनियरिंग क्या है | इंजीनियर कैसे बने

आज के समय में सब बच्चे अपने बचपन से ही सोच लेते है की जब वह बड़े हो जाएंगे तो उन्हें भविष्य में क्या करना है और ज्यादातर बच्चे यही चाहते हैं कि हम Engineer बने और बच्चे भी Engineering करने का सपना क्यों न देखे क्योंकि आज के समय में इंजीनियरिंग ही सबसे प्रसिद्ध कोर्स हो गया है। इंजीनियरिंग कोर्स करने का हर एक छात्र ख्वाब देखता है और इंजीनियरिंग करने की तैयारी बच्चे तभी से कर देते हैं,

जब वह स्कूल में होते हैं। इंजीनियरिंग का आरंभ वैसे तो स्कूल मैं ही हो जाती है। और अब आप यह भी सोच रहे होगें की भला कैसे ? Engineering करने का सपना देखने वाले विद्यार्थी स्कूल में 11वीं क्लास में Science Stream को सेलेक्ट करते है। साईंस सब्जेक्ट में भी गणित और भौतिक विज्ञान को पढ़ना बहुत जरुरी होता है। और 12वीं कक्षा में भी इन्हीं विषयों को पढ़ना आवश्यक होता है तभी किसी अच्छे Engineering Collage में आपको दाखिला मिलेगा। यह तो हो गई स्कूल की बात अब आगे इस पोस्ट में हम जानेंगे की Engineering Kya Hai, Engineer Kaise Bane, Engineering kon Kar Sakta Hai, Type Of Engineer In Hindi आदि।

Engineering Kya Hai ?

Engineering Kya Hai Engineer Kaise Baneयदि हम बात करें Engineering Kya Hai तो हम आपको बता दें इंजीनियरिंग एक कोर्स होता है जो कि आप 10वीं और 12वीं दोनों के बाद कर सकते हैं यदि आप दसवीं के बाद इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो आपको पहले डिप्लोमा करना होगा उसके बाद आप रिमझिम कर पाएंगे इसके अतिरिक्त बारहवीं कक्षा के बाद यदि आप करते हैं तो बारहवीं कक्षा के बाद आपको तुरंत एडमिशन मिल जाता है और 4 साल की इंजीनियरिंग होती है

इंजीनियरिंग भी कई प्रकार की होती हैं वह हम आपको आगे बताएंगे इंजीनियरिंग में आपको कई तरह की टेक्नोलॉजी के बारे में बताया जाता है मान लीजिए कि आप की रुचि Mechanical Engineering करने में है तो आपको इस इंजीनियरिंग में मशीन तथा मशीनों के पार्ट्स के बारे में अच्छी तरह से बताया जाता है इसके साथ साथ आप इंजीनियरिंग की पढ़ाई अभी अच्छे से कर लें तो आप एक मशीन भी खुद बना सकते हैं.

Engineer का मतलब होता है ऐसा व्यक्ति जो एक नया अविष्कार करें या फिर किसी चीज को डिजाइन करें, या फिर किसी नई मशीन का निर्माण करें उसे हम इंजीनियर कहते हैं, परंतु इंजीनियर बनने के लिए या तो आपको डिप्लोमा करना होता है या आपको बीटेक करनी होती है तब आप इंजीनियर बनते हैं.

Types Of Engineering In Hindi?

ज्यादातर छात्र बचपन में ही इंजीनियरिंग करने की तो सोच लेते हैं परंतु उन्हें यह नहीं पता होता कि इंजीनियरिंग हम कैसे करें मतलब इंजीनियरिंग हम किस फील्ड से करें वह लोगों की बातों में आ जाते हैं और अपनी रुचि को भूल कर जिस Field में उनकी रुचि भी नहीं होती उसकी हमसे इंजीनियरिंग कर बैठते हैं

यदि आप इंजीनियरिंग करके एक सक्सेसफुल इंजीनियर बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अपनी रूचि के हिसाब से चलना होगा जिस फील्ड में आपकी ज्यादा रुचि है आपको उसी फील्ड में इंजीनियरिंग भी करनी चाहिए क्योंकि जब तक आप पढ़ाई में इंटरेस्ट नहीं लेंगे तब तक आपको कुछ भी समझ नहीं आएगा और आपके पैसे बेकार जाएंगे। 

इसीलिए हम आपको Engineering Branch बताने जा रहे हैं जिस में भी आपकी रूचि हो आप उसी से इंजिनजी कीजिए चलिए जानते हैं Type Of Engineering In Hindi

1 :- Mechanical Engineering

आपको इस इंजीनियरिंग के नाम से ही पता लग रहा होगा कि Mechanical Engineering Kya Hai ज्यादातर जिन लोगों को मशीनों से बहुत प्यार होता है और बचपन में उन्हें मशीनों को खोलकर उन्हें फिर से बंद करने की आदत होती है, तो उन्हें Mechanical Engineering ही करनी चाहिए क्योंकि मेकेनिकल इंजीनियरिंग में आपको मशीनों से संबंधित पढ़ाई ही पढ़ाई जाती है, और यदि जो कुछ भी आपको सिखाया जाता है वह आप अच्छे से सीख जाएं, तो आप एक सक्सेसफुल मैकेनिकल इंजीनियर बन सकते हैं, और मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बहुत ही ज्यादा Scope है,

2 :- Electrical Engineering

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग करने का सबसे बड़ा कारण है, कि इस फील्ड में बहुत ही ज्यादा Scope है, जैसे कि हर रोज नई नई टेक्नोलॉजी आती रहती हैं इसी प्रकार इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की अहमियत भी प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, एक छोटी सी कंपनी से लेकर बड़ी-बड़ी कंपनियों तक हर जगह आपको इलेक्ट्रिकल इंजीनियर मिलते हैं,

ऐसी कोई जगह नहीं होगी जहां पर व्यक्ति कल इंजीनियर की आवश्यकता ना हो, हर जगह पर हमें इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की आवश्यकता बड़े ही जाती है, इसीलिए इस इंजीनियरिंग को ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थी करते हैं, यदि आप बचपन से ही Electric Equipment में रुचि रखते हैं तो आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग भी कर सकते हैं।

3 :- Civil Engineering

अब बात करते हैं कि Civil Engineering Kya Hai, जो भी व्यक्ति इंजीनियरिंग करना चाहता है एक बार अवश्य है यही सोचता है कि वह सिविल इंजीनियरिंग कर ले, क्योंकि इंजीनियर सरकार के अंतर्गत काम करते हैं सरकार को जब भी कोई सड़क बनी होती है, किसी बिल्डिंग का निर्माण कराना है किसी हॉस्पिटल का निर्माण कराना है तो सिविल इंजीनियर की आवश्यकता पड़ती है, सरकार द्वारा जिम्मेदारी सिविल इंजीनियर को दी जाती है, और सिविल इंजीनियर की देखरेख में ही आगे सब Construction के काम होते हैं, जिन लोगों की रूचि है Construction Work मैं वह भी Civil Engineering कर सकते हैं. 

4 :- Computer Engineering

आज के समय में कंप्यूटर हमारी एक जरूरत बन गया है, कंप्यूटर का इस्तेमाल सब जगह किया जाता है ऐसी कोई जगह नहीं बची है, जहां पर कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं किया जाता कोई प्राइवेट कंपनियों कोई स्कूल हो कोई हॉस्पिटल हो या फिर कोई दुकान हो सभी में ज्यादातर कंप्यूटर का इस्तेमाल अवश्य किया जाता है, इसीलिए यदि आपकी रूचि कंप्यूटर में है,

तो आप को Computer Engineering करनी चाहिए क्योंकि कंप्यूटर इंजीनियरिंग में आपको कंप्यूटर से संबंधित सभी जानकारियां दी जाती है, और आप कंप्यूटर इंजीनियर के इतने परफेक्ट हो जाते हो, कि आप एक कंप्यूटर का निर्माण भी कर सकते हो, इसके साथ-साथ आपको इसमें इस्तेमाल होने वाले सभी सॉफ्टवेयर के बारे में भी संपूर्ण जानकारी दी जाती है.

5 :- Automobile Engineering

आज के समय में ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग बहुत ही प्रसिद्ध हो गई है, क्योंकि बढ़ती गाड़ियों के साथ ऑटोमोबाइल इंजीनियर की आवश्यकता भी बढ़ती जा रही है, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग में आपको गाड़ियों के इंजन या ट्रकों के इंजन आदि के बारे में बताया जाता है, यदि आप गाड़ियों में या बाइक में ज्यादा रुचि रखते हैं तो आप ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग भी कर सकते हैं, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग करने के पश्चात आपको गाड़ियों के बारे में संपूर्ण ज्ञान हो जाता है कि गाड़ी में क्या कमी है, कैसे ठीक होगी सभी चीज आपको पता लग जाती हैं

6 :- Mining Engineering

इस इंजीनियरिंग के बारे में आपने बहुत कम सुना होगा, Mining Engineering ज्यादातर लोग इंडिया से बाहर करते हैं क्योंकि दूसरे बड़े देशों में Mining Engineering का बहुत ही ज्यादा Scope है और वहां पर बहुत ज्यादा छात्र इस इंजीनियरिंग को करते हैं,

इस इंजीनियरिंग में आपको Mining ( खुदाई ) के बारे में अच्छे से बताया जाता है दूसरे बड़े देशों में प्रतिदिन खुदाई होती ही रहती है और वह खुदाई करके किसी ना किसी चीज की खोज करते ही रहते हैं इसीलिए बड़े देशों में Mining Engineer ज्यादा होती है लेकिन ऐसा नहीं है कि हमारे भारत में Mining Engineer नहीं  है हमारे भारत में भी बहुत विद्यार्थी इस इंजीनियरिंग को करते हैं.

7 :- Petroleum Engineering

पैट्रोलियम इंजीनियरिंग भी एक ऐसा कोर्स है, जिसके बारे में बहुत कम व्यक्ति जानते हैं, पैट्रोलियम इंजीनियरिंग में आपको जमीन से निकलने वाले पदार्थों को सुरक्षित टैंक में रखना तथा उन्हें प्यूरिफाई करना आदि सभी टेक्नोलॉजी के बारे में सिखाया जाता है, इस इंजीनियरिंग का भी बहुत स्कोप है, परंतु बहुत कम विद्यार्थी इस इंजीनियर को करते हैं क्योंकि उन्हें इसके बारे में नहीं पता होता है। 

8 :- Sports Technology Engineering

इस इंजीनियरिंग के बारे में भी बहुत कम लोग ही जानते हैं, परंतु इस इंजीनियरिंग की शाखा का भी बहुत ज्यादा कोप है, मार्केट में इस इंजीनियरिंग में आपको खेल में इस्तेमाल होने वाले सभी उपकरणों के बारे में बताया जाता है, और उनको सही करने के बारे में बताया जाता है, यह इंजीनियरिंग करने के बाद आप नए नए खेल उपकरणों को डिजाइन भी कर सकते हैं.

9 :- Agriculture Engineering

इस इंजीनियरिंग में आपको कृषि से संबंधित पढ़ाई पढ़ाई जाती है, यदि आप कृषि में रुचि रखते हैं  और अपने गांव या शहर में कृषि में विकास करना चाहते हैं, तो आप इस इंजीनियरिंग को भी कर सकते हैं, इस इंजीनियरिंग में भी बहुत ज्यादा स्कोप है और हमारे भारत देश में बहुत लोग ऐसे हैं, जो इस इंजीनियरिंग को करते हैं. 

Engineering Ke Liye Top 10 Collage? ( Top 10 Engineering Collage In India )

हम आपको 10 इंजीनियरिंग कॉलेज के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि हमारे पूरे भारत में सबसे बेहतरीन कॉलेज हैं परंतु इन कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए पहले आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है तभी आप इन कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं, तो चलिए जानते हैं उन Top 10 Engineering Collage बारे में –

भारत के टॉप 10 इंजीनियरिंग कालेज – 

  1. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, Delhi
  2. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, Kharagpur
  3. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, Bombay
  4. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, Kanpur
  5. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, Roorkee
  6. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी Guwahati
  7. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, Pilani
  8. दिल्ली टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी, Delhi
  9. इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी, Dhanbad
  10. इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी, Indore

यह सबसे बेहतरीन इंजीनियरिंग के कॉलेज हैं परंतु इन कॉलेज में एडमिशन लेना हंसी खेल नहीं है इन कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको बारहवीं कक्षा के बाद बहुत ही मेहनत करनी होती है और एंट्रेंस एग्जाम पास करने के पश्चात ही आपको इन कॉलेज में दाखिला मिल पाता है।

B-Tech Ke Baad Kya Kare

बीटेक करने के बाद आपके पास बहुत ऑप्शन होते हैं यदि आप बीटेक करने के बाद नौकरी करना चाहते हैं तो आपको बहुत अच्छी प्राइवेट नौकरी भी मिल जाती है आप वह भी कर सकते हैं यदि आप प्राइवेट नौकरी नहीं करना चाहते तो आप सरकारी नौकरी की तैयारी भी कर सकते हैं बीटेक करने के बाद बहुत सारे सरकारी डिपार्टमेंट में आपको नौकरी मिल जाती है बस आपको उनके लिए आवेदन देना होता है और फिर एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होता है तो आप की नौकरी लग जाती है.

यदि आप बीटेक के बाद नौकरी नहीं करना चाहते आप पढ़ना चाहते हैं, तो आप M-tech भी कर सकते हैं एम्टेक Master Of Technology होता है यह इंजीनियरिंग की मास्टर डिग्री है, इसको करने के बाद आप किसी कॉलेज में लेक्चरर भी लग सकते हैं इसके अतिरिक्त यदि आप नौकरी करना चाहते हैं, तो आपको बहुत अच्छी नौकरी भी मिल जाती है, और यदि पढ़ना चाहते हैं तो फिर आप आगे पीएचडी कर सकते हैं.

और पीएचडी करने के बाद आपके नाम के आगे लग जाता है, आप प्रोफेसर की नौकरी भी कर सकते हैं, इसके साथ-साथ आपको किसी भी कॉलेज में HOD की नौकरी भी आसानी से मिल जाएगी.

B-Tech Ke Baad Salary

यदि आप सोच रहे हैं कि इंजीनियरिंग करने के बाद आपको कितनी सैलरी मिल सकती है तो मैं आपको बता दें कि इंजीनियरिंग करने के बाद तनख्वाह आपके ऊपर निर्भर करती है यदि आप बीटेक की पढ़ाई मन लगाकर करते हैं और आपको जो कुछ भी सिखाया जाए बैठक में वह बिल्कुल अच्छे तरीके से आप सीख लेते हैं तो आपको आसानी से नौकरी मिल जाती है,

बीटेक करने के बाद शुरुआत में जवाब नौकरी शुरू करते हैं तो आपको ₹15000 से ₹20000 तक की नौकरी मिल जाती है, और कुछ प्राइवेट कंपनियां ऐसी भी हैं जो बीटेक करने के बाद शुरुआत नहीं आपको ₹30000 से ₹35000 महीने तनख्वाह दे देती हैं जैसे कि Wipro, BHEL, BEL

आशा है कि आप को माया पोस्ट समझ आ गई होगी इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि Engineer Kya Hai, Top Engineering Collage In India, B-Tech Ke Baad Kya Kare आशा है कि आप को हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो। 

इंजीनियरिंग से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर –

Engineer Kaise Bane

इंजीनियरिंग का आरंभ वैसे तो स्कूल मैं ही हो जाती है। और अब आप यह भी सोच रहे होगें की भला कैसे ? Engineering करने का सपना देखने वाले विद्यार्थी स्कूल में 11वीं क्लास में Science Stream को सेलेक्ट करते है। साईंस सब्जेक्ट में भी गणित और भौतिक विज्ञान को पढ़ना बहुत जरुरी होता है। और 12वीं कक्षा में भी इन्हीं विषयों को पढ़ना आवश्यक होता है तभी किसी अच्छे Engineering Collage में आपको दाखिला मिलेगा।

फिर बीटेक करने के बाद आपके पास बहुत ऑप्शन होते हैं यदि आप बीटेक करने के बाद नौकरी करना चाहते हैं तो आपको बहुत अच्छी प्राइवेट नौकरी भी मिल जाती है आप वह भी कर सकते हैं यदि आप प्राइवेट नौकरी नहीं करना चाहते तो आप सरकारी नौकरी की तैयारी भी कर सकते हैं बीटेक करने के बाद बहुत सारे सरकारी डिपार्टमेंट में आपको नौकरी मिल जाती है बस आपको उनके लिए आवेदन देना होता है और फिर एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होता है तो आप की नौकरी लग जाती है.

इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं?

  1. Mechanical Engineering
  2. Electrical Engineering
  3. Civil Engineering
  4. Computer Engineering
  5. Automobile Engineering
  6. Mining Engineering
  7. Petroleum Engineering
  8. Sports Technology Engineering
  9. Agriculture Engineering
  10. Aeronautical engineering.

दसवीं के बाद इंजीनियर कैसे बने?

Ans :- इंजीनियरिंग एक कोर्स होता है जो कि आप 10वीं और 12वीं दोनों के बाद कर सकते हैं यदि आप दसवीं के बाद इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो आपको पहले डिप्लोमा करना होगा उसके बाद आप रिमझिम कर पाएंगे इसके अतिरिक्त बारहवीं कक्षा के बाद यदि आप करते हैं तो बारहवीं कक्षा के बाद आपको तुरंत एडमिशन मिल जाता है और 4 साल की इंजीनियरिंग होती है

इंजीनियर क्या काम करता है?

Ans :-  ऐसा व्यक्ति जो एक नया अविष्कार करें या फिर किसी चीज को डिजाइन करें, या फिर किसी नई मशीन का निर्माण करें उसे हम इंजीनियर कहते हैं,

इंजीनियर का मतलब क्या होता है?

Ans :- यदि हम बात करें Engineering Kya Hai तो हम आपको बता दें इंजीनियरिंग एक कोर्स होता है जो कि आप 10वीं और 12वीं दोनों के बाद कर सकते हैं,

  • Engineer का मतलब होता है ऐसा व्यक्ति जो एक नया अविष्कार करें या फिर किसी चीज को डिजाइन करें, या फिर किसी नई मशीन का निर्माण करें उसे हम इंजीनियर कहते हैं, परंतु इंजीनियर बनने के लिए या तो आपको डिप्लोमा करना होता है या आपको बीटेक करनी होती है तब आप इंजीनियर बनते हैं॥

और भी विभिन्न प्रकार के जानकारी के लिए इन पोस्ट को भी पढे :– 

4.8/5 - (80 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button