डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉं क्या है | Diploma In Taxation Law कैसे करे

आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको जानकारी देंगे कि Diploma In Taxation Law Kya Hai और Diploma In Taxation Law Kaise Kare तथा  Diploma In Taxation Law Ke Liye Qualification?  Diploma In Taxation Law Ke Baad Kya Kare?  Diploma In Taxation Law Ke Baad Kitni Salary Milti Hai?  Diploma In Taxation Law Ki Fees Kitni Hai? Diploma In Taxation Law Ke Fayde In Hindi?

अगर कोई भी छात्र Taxation Law में अपना कैरियर बनाना चाहता है तो आपके लिए यह  डिप्लोमा बहुत ही बेहतर ऑप्शन है |इस डिप्लोमा को करने के बाद आपके पास बहुत से जॉब ऑप्शन खुल जाते हैं| तथा आप अच्छे टैक्स लॉयर के रूप में कार्य कर सकते हैं| डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ एक प्रोफेशनल कोर्स है इसमें आपको फाइनेंस तथा एकाउंटिंग के बारे में पूरी जानकारी दी जाती है| तथा इसके अंतर्गत आपको टैक्सेशन के बारे में भी बेसिक जानकारियां दी जाती है| Diploma in taxation के अंतर्गत अकाउंटिंग तथा फाइनेंस की थ्योरी तथा प्राक्टिकल में  direct तथा indirect टैक्स, Financial accounting की ट्रेनिंग दी जाती है | इस कोर्स को आप रेगुलर कॉलेज से तथा  correspondence भी कर सकते हैं|

Diploma in taxation law Kya Hai (What Is Diploma in taxation law In Hindi?)

Diploma In Taxation Law Kya Hai -Diploma In Taxation Law Kaise Kareजैसे कि आप सब लोग जानते हैं डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ एक प्रोफेशनल कोर्स है| कर्रिएर  ग्रोथ के लिए यह बहुत ही बेहतर कोर्स है|जो  छात्र Diploma in taxation law करने में इंटरेस्ट रखते है उनके लिए यह डिप्लोमा कोर्स  Better opportunity प्रोवाइड करवाता है |तथा इंडिया के सभी टैक्सेशन सिस्टम के बारे में जानकारी मिलती है | इस कोर्स के अंतर्गत बहुत से टॉपिक के बारे में जानकारी मिलती हैं| जैसे – GST कोर्स, Bookkeeping ,अकाउंटेंसी कोर्स, skill building etc. Diploma in taxation law करने के बाद छात्र अपनी एकाउंटिंग कंसलटेंसी, एडवाइजरी फर्म भी ओपन कर सकते है | इस कोर्स में आपको  taxation and law से संबंधित सभी सब्जेक्ट की जानकारी मिल जाती है|

Diploma in taxation law course Highlights in Hindi

1) Diploma in taxation law

2) Course duration 1 year

3) Age limit – 18-23 years

4) Fees – 15000 to 1 lakh

5) salary – 5 lakh per annum

6) Minimum percentage – 50% marks

7) Employment Role – Financial advisor, Tax collector, Tax manager, Tax analysis |

Diploma In Taxation Law Kaise Kare (How To Do Diploma In Taxation Law In Hindi?)

डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ करने के लिए सरकार के द्वारा बहुत सी योग्यताएं रखी गई है यदि आपके पास वह सब योग्यताएं हैं  तो तभी आप डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ कर सकते हैं यह कोर्स करने में आपको बहुत मेहनत करनी होती है यह कोर्स आप 12वीं कक्षा के पश्चात आसानी से कर सकते हैं आगे हम आपको Eligibility Of Taxation Law In Hindi  के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Diploma in taxation law Eligibility Criteria and Entrance exam

Diploma in taxation law के लिए कोई स्पेसिफिक entrance exam  नहीं होता है | इस कोर्स को करने के लिए आपको किसी भी स्टीम से बैचलर डिग्री में पास होना अनिवार्य है| इस कोर्स के लिए छात्र की 10+2 कक्षा एक मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से पास की होनी चाहिए | तथा आपकी 10+2 कक्षा कॉमर्स स्टीम  से पास होने चाहिए| डिप्लोमा इन  टैक्सेशन लॉ में एडमिशन छात्र की अच्छी परसेंटेज तथा स्किल्स दोनों पर आधारित होता हैं |इस कोर्स के अंतर्गत कॉलेज तथा इंस्टिट्यूट के अपने एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट किए जाते हैं | IPU CET  एक कॉमन एंट्रेंस एग्जाम है जिसकी सहायता से हम एडमिशन ले सकते हैं|

Other University exam –

1) Institute for higher education entrance exam

2) Sree Narayana Guru college of Commerce entrance exam

3) Prin L.R institute Of management development & research Entrance exam

Diploma in taxation law कोर्स में 4 सेक्शन को cover किया जाता है| जैसे –

1)  इंग्लिश एप्टिट्यूड( English Aptitude )

2)  जनरल नॉलेज ( General knowledge )

3)  लॉजिकल रीजनिंग (Logical Reasoning )

4)  डिटेक्टिव एप्टिट्यूड (Quantitative Aptitude )

Subjects for diploma in Taxation law

1) Computation of income From salary

2)  Agriculture income

3) Computation Of income From house Property

4) Computation of income from Business Or profession

5) Deduction from gross total income

6) Assessment of Partnership Companies

7) Assessment of Joint stock Companies

8) Procedure for assessment

9) Introduction of central Sales law tax

10) Sale to government

11) Liability to Central Sales tax

12) Company in Liquidation

13) Value added tax

14) Introduction to service tax

15) Liability to service tax

16) Assessment of various Cases

Admission process Of Diploma In Taxation Law In Hindi 

यदि आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि इस कोर्स को आप 2 तरीकों से कर सकते हैं। पहला तरीका तो यह है कि आप प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेकर डायरेक्टिव कोर्स को कर सकते हैं और दूसरा तरीका यह है कि आप एंट्रेंस एग्जाम पास करके सरकारी कॉलेज के माध्यम से इस कोर्स को कर सकते हैं। परंतु सरकारी कॉलेज में से इस कोर्स को करने के लिए आपको पहले एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है और उस एग्जाम को पास करना हर किसी बच्चे के बस की बात नहीं होती क्योंकि वह एंट्रेंस एग्जाम काफी कठिन होता है।

यदि आप सरकारी कॉलेज में दाखिला लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम को पास कर भी लेते हैं। तो उसके पश्चात आपकी काउंसलिंग होती है और काउंसलिंग के द्वारा जो आपके नंबर एंट्रेंस एग्जाम में आते हैं उनके आधार पर आपको कॉलेज दिया जाता है। यदि आपके अंक अच्छे हैं तो आपको अपने नजदीक भी कॉलेज मिल सकता है जहां से आप इस कोर्स को कर सकते हैं।

Diploma In Taxation Law Ki Taiyari Kaise Kare (Preparation tips for Diploma in taxation law In Hindi?)

टैक्सेशन लॉ स्टडी की तैयारी करने के लिए सबसे पहले छात्र के लिए जरूरी है की एक proper plan तथा टाइम टेबल बनाना होगा| जिसकी सहायता से आप टाइम पर पढ़ाई कर सकें| और छात्र को पुराने question पेपर सॉल्व करने से भी काफी हद तक मदद मिलेगी | जिसकी सहायता  से उन्हें एग्जाम पैटर्न तथा एग्जाम Timing (कितने टाइम में पेपर सॉल्व करना है) के बारे में पता लगेगा| इस कोर्स को करने के लिए छात्र को टैक्सेशन की basic knowledge होनी चाहिए |बहुत अच्छे तरीके से हार्ड वर्क करके ही स्टूडेंट्स इस कोर्स में पास हो सकता है|कोर्स स्टडी के लिए यह बहुत जरूरी है कि छात्र को चाहिए की weekly online classes लगाए |

Diploma In Taxation Law Course Ki Fees Kitni Hoti Hai ( Fees Structure for Diploma in taxation law In Hindi?)

डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ करने के लिए सभी कॉलेज का अलग-अलग फीस स्ट्रक्चर होता है अगर आप किसी भी सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो उसकी फीस आपको कम pay करनी पड़ेगी तथा प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन फीस ज्यादा होगी| अगर  किसी छात्र  का मेरिट लिस्ट के आधार पर एडमिशन  होता है तब भी फीस कम pay करनी पड़ती है|  Diploma in Taxation Law Course Ki Fees  15000 to 1 lakh  1 साल की हो सकती है।

यदि आप किसी सरकारी कॉलेज में से इस कोर्स को करते हैं तो आपको काफी कम फीस देनी होती है। आप मान कर चलिए कि ₹5000 से लेकर ₹10000 तक सरकारी कॉलेज में यह कोर्स आसानी से आप कर सकते है। सरकारी कॉलेज में आपको बहुत सी सुविधाएं भी मिलती हैं। जो कि आपको महंगे से महंगे प्राइवेट कॉलेज में भी नहीं मिल पाती। इसीलिए ज्यादातर छात्र सिर्फ सरकारी कॉलेज की तरफ ही है आकर्षित होते हैं और सरकारी कॉलेज में दाखिला लेने के लिए मेहनत करते हैं।

Top College / Institute list for Diploma in taxation law in India

 बहुत से इंस्टिट्यूट है जो डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ के कोर्स को ऑफर करते हैं|

 इस कोर्स को आप डिस्टेंस लर्निंग से भी कर सकते हैं

1) ILS Law college, Pune

2) Symbosis Law school, Pune

3) Arihant group of Institute, pune

4) Institute for excellence in higher education, Bhopal

5) Sree narayan guru college of Commerce mumbai

6) Balaji law college, pune

7) Annamalai university, tamil nadu

8) Dr. Ambedkar college of law, banglore

9) Bharti vidyapeeth School of distance education, pune

10) Chandigarh university

Diploma In Taxation Law Ke Baad Nokri (Job Opportunities after doing diploma in taxation law In Hindi?)

डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ में करने के बाद आप किसी भी सरकारी तथा प्राइवेट कंपनी में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं| इस कोर्स के जरिये बहुत सी ऐसी जॉब आपको मिल जाती हैं जो आपके कम्युनिकेशन स्किलस  तथा आपके काम करने के एक्सपीरियंस पर निर्भर होती है|  इस कोर्स को करने के बाद आप हर सेक्टर में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं|

Types of jobs-

1) Tax specialist(  टैक्स स्पेशलिस्ट )

2) Finance Manager (  फाइनेंस मैनेजर)

3) Tax consultant( टैक्स कंसलटेंट )

4) Tax advisor ( टैक्स एडवाइजर )

5) Tax Manager (  टैक्स मैनेजर)

6) Business tax consultant (  बिजनेस टैक्स कंसलटेंट )

7) Property tax consultant( प्रॉपर्टी  टैक्स कंसलटेंट)

8) Certified Public Accountant (  सर्टिफाइड पब्लिक अकाउंटेंट)

9) Financial Advisors ( फाइनेंसियल  एडवाइजर)

10) Chief financial Officer ( चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर)

Diploma In Taxation law Course ke baad Kitni Salary Mil Sakti Hai (Salary Structure After Diploma In Taxation Law In Hindi)

डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ कोर्स करने के बाद आपके पास बहुत से कंपनियों के लिए ऑप्शन मिल जाती है किसी भी प्राइवेट कंपनी में या सरकारी कंपनी में आप जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं |तथा इस कोर्स को करने के बाद आप अपना बिजनेस भी  स्टार्ट कर सकते हैं| diploma in taxation law course करने के बाद आप नौकरी करकर 5 lakh per annum तथा इससे ज्यादा भी कमा  सकते हैं| सैलरी आपके कम्युनिकेशंस skills तथा आपके experience पर भी निर्भर करती है अगर आपका काम करने का अनुभव ज्यादा होता है तो सैलरी भी उसी के according बढ़ती है |

फिर भी हम आपको बता दें कि यदि आप किसी कंपनी में नौकरी करते हैं तो आपको शुरुआत में ₹20000 से ₹25000 की नौकरी भी आसानी से मिल सकती है इसके अतिरिक्त यदि आप इसके बाद अपना खुद का काम करते हैं। तो भी आप अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं क्योंकि इस कोर्स को करने के पश्चात आप खुद का ऑफिस भी खोल सकते हैं परंतु ऑफिस खोलने के लिए आपको थोड़े अनुभव की आवश्यकता होती है जो कि आप नौकरी करके प्राप्त कर सकते हैं।

Conclusion –

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया है कि Diploma In Taxation Law Kya Hai और Diploma In Taxation Law Kaise Kare तथा  Diploma In Taxation Law Ke Liye Qualification?,  Diploma In Taxation Law Ke Baad Kya Kare इसके साथ साथ हम आपको यह भी बताएंगे कि Diploma In Taxation Law Ke Baad Kitni Salary Milti Hai?  Diploma In Taxation Law Ki Fees Kitni Hai? Diploma In Taxation Law Ke Fayde In Hindi? अगर अभी भी आपको इस कोर्स से संबंधित कोई प्रश्न हम से पूछना हो तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं।

इनके बारे मे पढे : –

4.6/5 - (55 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button