Diploma in Chemical Engineering Kya Hai | डिप्लोमा इन केमिकल इंजिनयरिंग की तैयारी कैसे करे

Share It

आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको Chemical Engineering की जानकारी देंगे,की Diploma in Chemical Engineering Kaise Kare तथा Diploma in Chemical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai और Diploma in Chemical Engineering Ke Baad Job Option In Hindi और इसके साथ साथ हम आपको यह भी बताएंगे कि Diploma in Chemical Engineering Ke Collages तथा Salary Of Chemical Engineer In Hindi. 

Chemical engineering Kya Hai – What Is Chemical Engineering In Hindi?

Diploma in Chemical Engineering Kya Hai - Diploma In Chemical Engineering Kaise Kareजैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि हमारी ज़िन्दगी में पढ़ाई का कितना महत्व है | सभी के अपने अलग-अलग सपने होते हैं| उन सपनों को पूरा करने के लिए और बेहतर कैरियर बनाने के लिए अलग-अलग तरह की एजुकेशन भी प्राप्त करते हैं| अलग-अलग कोर्सेज में एडमिशन लेते हैं| सभी अपनी जिंदगी में कुछ ना कुछ बनना चाहते हैं जैसे डॉक्टर, इंजीनियर, अध्यापक, इंजीनियर आदि | इन्हीं में से हमारे पास एक ऑप्शन है केमिकल इंजीनियरिंग| केमिकल इंजीनियरिंग करने के बाद अब अपना कर्रिएर बेहतर बना सकते हैं| तथा अच्छी कंपनी में जोब भी प्राप्त कर सकते हैं|

केमिकल इंजीनियरिंग के अंतर्गत आपको रसायन तथा रासायनिक उत्पादों की रिसर्च से लेकर केमिकल उत्पादों के बारे में सिखाया जाता है,  यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसके अंतर्गत  रो मटेरियल को भी उपयोगी प्रोडक्ट में परिवर्तित करने के लिए केमिकल का यूज किया जाता है|  किस फील्ड में आपको केमिकल प्लांट की डिजाइनिंग से लेकर मेंटेनेंस तक के कार्य सिखाये जाते हैं| यह फील्ड में बायो टेक्नोलॉजी, मिनिरल प्रोसेसिंग, रिफायनिंग प्लांट्स जैसे अलग-अलग फील्ड से केमिस्ट्री इंजीनियरिंग नॉलेज को कंबाइन करती हैं|

Chemical engineering का कार्यक्षेत्र सभी chemical और केमिकल प्रोडक्ट के उत्पादन के निर्माण में आने वाली सभी समस्याओं के निवारण से हैं| भारत में बहुत सी स्वदेशी कंपनियां है |परंतु आज के समय में भारत बहुत सी MNC company भारत में स्थापित हो रही है| इसके कारण जॉब अपॉर्चुनिटी बढ़ती जा रही है|

Diploma In Chemical Engineering Ke Liye Yogyata – Eligibility Criteria for Diploma In Chemical Engineering In Hindi?

Diploma in Chemical Engineering After 10th –

यदि आप Diploma in Chemical Engineering करना चाहते हैं तो यह कोर्स आफ 10वीं तथा 12वीं इन दोनों ही कक्षाओं के पश्चात कर सकते हैं यदि आप 10वीं कक्षा के पश्चात केमिकल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो दसवीं कक्षा के पश्चात आप किसी भी प्राइवेट कॉलेज से डायरेक्ट भी यह कोर्स कर सकते हैं इसके लिए आपको किसी भी प्रकार की कोई प्रतियोगी परीक्षा पास नहीं करनी होगी आपको प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है

यदि आप सरकारी कॉलेज से डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम देना होता है, जिसमें आप से कहीं तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं यदि आप वह एंट्रेंस एग्जाम पास कर लेते हैं तो उसके पश्चात Counselling होती है, और काउंसलिंग के दौरान आप अपनी इच्छा के अनुसार नजदीकी किसी भी सरकारी कॉलेज का चयन कर सकते हैं।

Diploma in Chemical Engineering After 12th –

यदि आप बारहवीं कक्षा के परीक्षा Diploma in Chemical Engineering करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको 12वीं कक्षा साइंस के सब्जेक्ट पर फास्ट करनी होती है और फिर आप अपनी इच्छा के अनुसार सरकारी तथा प्राइवेट कॉलेज का चयन कर सकते हैं।

परंतु एक बात हम आपको बता दें, कि यदि आप 10वी कक्षा के पश्चात diploma in chemical engineering 3 साल का कोर्स होता है और यदि आप बारहवीं कक्षा के पश्चात यह कोर्स करते हैं, तो यह कोर्स 2 साल का होता है, परंतु इसके लिए 12वीं आपको साइंस के सब्जेक्ट से करनी होती है, यदि आप नॉर्मल सब्जेक्ट से 12वीं करते हैं तो फिर आपको यह कोर्स 3 साल का ही करना होता है।

Admission process  for diploma in chemical engineering In Hindi?

जैसा कि हमने आपको बता ही दिया है, कि यह कोर्स आप दो तरीकों से कर सकते हैं पहला तो है सरकारी कॉलेज और दूसरा है प्राइवेट कॉलेज यदि आप प्राइवेट कॉलेज से यह कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है अगर आपके दसवीं में 45 से 50% अंक भी है तो भी आपको आसानी से दाखिला मिल जाता है, उसके लिए आपको डायरेक्ट कॉलेज में जाना होता है और एडमिशन लेना होता है परंतु प्राइवेट कॉलेज में फीस ज्यादा होती है।

इसके अतिरिक्त यदि आप सरकारी कॉलेज से डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको 10वीं या 12वीं कक्षा के पश्चात एंट्रेंस एग्जाम ( Entrance Exam ) देना होता है, और यह एंट्रेंस एग्जाम दसवीं तक की पढ़ाई के आधार पर होता है, इसके अतिरिक्त भी बहुत से सब्जेक्ट में से प्रश्न पूछे जाते हैं, जब आप ही एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे अंको से पास कर लेते हैं तो उसके पश्चात आपको सरकारी कॉलेज में दाखिला मिल सकता है, और सरकारी कॉलेज में फीस भी काफी कम रहती है उसके साथ साथ भी आपको अनेकों फायदे होते हैं।

Diploma In Chemical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai – Fees Structure Of Diploma In Chemical Engineering? 

यदि हम Diploma In Chemical Engineering करना चाहते हैं, तो आपके मन में यह सवाल जरूर आता है कि इस कोर्स की फीस कितनी हो सकती है तो हम आपको बता दें, कि इस कोर्स की फीस कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है, कि कॉलेज किस प्रकार की सुविधाएं आपको पढ़ाई के साथ साथ दे रहा है क्योंकि बहुत से कॉलेज ऐसे होते हैं, जो पढ़ाई के साथ-साथ आपको स्पोर्ट्स फैसिलिटी ( Sports Facility) भी देते हैं परंतु यह सुविधा सिर्फ प्राइवेट कॉलेज में ही दी जाती है, और इसीलिए प्राइवेट कॉलेज में ₹35000 से लेकर ₹100000 तक फीस हो सकती है, वैसे तो प्राइवेट कॉलेज में शुरुआती फीस ₹30000 से ₹35000 तक ही है परंतु कुछ बड़े कॉलेज ऐसे हैं, जहां पर ₹100000 तक की हो सकती है।

इसके अतिरिक्त यदि हम बात करें कि सरकारी कॉलेज में कितनी फीस होती है, तो आप मान कर चलिए कि यदि आप SC-ST जाति से है, तो आपकी इस कोर्स की फीस 8000 से ₹12000 तक 1 साल की हो सकती है, परंतु OBC या फिर General जाति के छात्रों को फीस में कोई भी छूट नहीं दी जाती और उनके लिए इस कोर्स की फीस 1 साल की ₹20000 तक हो सकती है, परंतु इसके साथ साथ जो छात्र पढ़ने में अच्छे होते हैं उन्हें छात्रवृत्ति भी प्रदान की जाती है।

Subjects for Diploma In Chemical Engineering?

1) Chemical engineering economics and plant design( केमिकल  इंजीनियर इकोनॉमिक्स एंड प्लांट डिजाइन)

2) Chemical process industries( केमिकल प्रोसेस इंडस्ट्रीज)

3) Chemical reaction engineering(  केमिकल रिएक्शन इंजीनियरिंग)

4) Environmental pollution control and safety management ( एनवायर्नमेंटल  पॉल्यूशन कंट्रोल एंड सेफ्टी मैनेजमेंट)

5) Fertilizer technology ( फर्टिलाइजर टेक्नोलॉजी)

6) Fundamental of heat and mass transfer ( द मेंटल ऑफ हीट एंड मास  ट्रांसफर)

7) Instrumentation and process control ( इंस्ट्रूमेंटेशन एंड प्रोसेस कंट्रोल)

8) Introduction of electrical and electronics circuits( इलेक्शन ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स सर्किट )

9) Introduction to numerical analysis(  इंट्रोडक्शन टू न्यूमेरिकल एनालिसिस)

10) Air pollution control engineering(  एयर पॉल्यूशन कंट्रोल इंजीनियरिंग)

College list for Diploma in Chemical Engineering?

 केमिकल इंजीनियरिंग के निम्न प्रकार के कॉलेज हैं|

1)  Indian institute of technology Mumbai ( इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, मुंबई)

 2) Indian institute of technology, Kanpur (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, कानपुर )

3)  Indian institute of technology Delhi (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली)

4)  Indian institute of technology, Guwahati (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, गुवाहाटी)

5) Indian institute of technology, madras (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मद्रास)

6)  Indian institute of technology, Hyderabad (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, हैदराबाद)

7)  Anna university

(अन्ना यूनिवर्सिटी, चेन्नई)

8)  Indian institute of technology, Roorkee (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, रुड़की)

9) Gla university ( जीएलए यूनिवर्सिटी)

10) Government polytechnic, Punjab ( गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक, पंजाब)

11) Gujarat technological university, ( गुजरात टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी)

12) Bhartiya vidyapeeth university, Pune ( भारतीय विद्यापीठ यूनिवर्सिटी, पुणे)

13) Shri ram institute of management and technology (SRIMT)

Jobs Option after doing chemical engineering In Hindi?

 केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा पास करने के बाद आप बहुत सी नौकरी ऑप्शंस आपको मिल जाते हैं किसी भी Chemical industry सरकारी तथा प्राइवेट कंपनी में नौकरी कर सकते हैं | केमिकल इंजीनियरिंग कोर्स को करने के बाद आप  डेयरी उद्योग, केमिकल फैक्ट्री, टेक्सटाइल, किसी भी chemical company में सुपरवाइजर, प्लांट ऑपरेटर | Chemical engineering करने के बाद Agriculture sector में भी आप नौकरी  प्राप्त कर सकते हैं|

 निम्न प्रकार की जॉब आप प्राप्त कर सकते हैं

1) Maintenance technician

2) Plant Operator

3) Marker Analyst

4) Associate Scientist

5) Process engineer

6) Field operator

7) Supervisor

8) Technical Service Representative

Diploma In Chemical Engineering Ke Baad Kitni Salary Mil Sakti Hai – Salary after Diploma In Chemical Engineering?

जब आप केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करते हैं तो उसके पश्चात आपके पास नौकरी करने के कई सारे अवसर होते हैं, यदि आप शुरुआत में किसी छोटी कंपनी में भी नौकरी करते हैं, तो आपको ₹12000 से लेकर ₹18000 तक की नौकरी मिल सकती है, और इसके अतिरिक्त बहुत सी कंपनियां ऐसी है जो आपको ₹25000 से ₹30000 तक सैलरी भी दे सकती हैं, परंतु वह आपके अनुभव तथा कौशल के ऊपर निर्भर करता है, कि आप इतनी सैलरी ले सकते हैं या फिर नहीं

क्योंकि बहुत से कॉलेज तो ऐसे भी होते हैं जो स्टूडेंट्स की नौकरी कोर्स के खत्म होने से पहले ही है लगवा देते हैं, और वह कॉलेज स्टूडेंट के काफी अच्छी नौकरियां भी लग जाते हैं उन कॉलेज में ज्यादातर सरकारी कॉलेज ही अच्छे होते हैं, क्योंकि सरकारी कॉलेज में अक्सर नौकरियां देने के लिए कंपनी आती रहती हैं।

Plant operator salary –  1 to 2 lakh per annum

Market Analysist salary – 4 to 5 lakh per annum

Associate Scientist salary  –  5 to 6 lakh per annum

Process engineer salary  3 to 4 lakh per annum

Field operator salary  – 1 to 2  lakh per annum

Supervisor salary  – 3 to 4 lakh per annum

Conclusion –

हम आशा करते हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको Diploma in Chemical Engineering के बारे में विस्तार से बताया है कि Diploma in Chemical Engineering Kaise Kare तथा Diploma in Chemical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai और Diploma in Chemical Engineering Ke Baad Job Option In Hindi और इसके साथ साथ हमने आपको Diploma in Chemical Engineering Ke Collages तथा Salary Of Chemical Engineer In Hindi यह भी बताया है यदि अब भी आपको What Is Chemical Engineering In Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न पूछना हो तो आप हमें कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं, हम उसका कुछ ही पलों में उत्तर जरूर देंगे।

अन्य कैरियर के बारे मे भी जानिए –

5/5 - (2 votes)

Share It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button