Mechanical Engineering क्या है | मैकनिकल इंजीनियर कैसे बने

इस Post के माध्यम से आपको जानकारी देंगे कि Mechanical Engineering Kya Hai तथा आप Mechanical Engineer Kaise Bane और Mechanical Engineer Banne Ke Liye Qualification? Mechanical Engineer Ki Salary Kitni Hoti Hai? Job Option After Mechanical Engineering In Hindi, Mechanical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai.

जैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि आज के समय में एजुकेशन का कितना महत्व है| सभी लोग अपने कैरियर को लेकर बहुत चिंतित रहते हैं तथा इस सोच में रहते हैं कि वह कौन सा करें जिससे अपना कर्रिएर बना सके तथा जिस कोर्स को करने के बाद उन्हें अच्छी जॉब मिल सके| अगर आप इसे फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छी ऑप्शन है इस कोर्स को करने के बाद आप बहुत सी भारतीय तथा विदेशी कंपनियों में नौकरी कर सकते हैं|

जो छात्र मैकेनिकल इंजीनियरिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं उन्हें मकैनिकस, मैटेरियल साइंस, किनेमैटिक्स,   थर्मोडायनेमिक्स आदि | मैकेनिकल इंजीनियरिंग के कोर्स में मशीनों की बनावट का अध्ययन किया जाता है| मैकेनिकल  इंजीनियरिंग एक सिविल इंजीनियरिंग के कोर्स की तरह ही सबसे पुराना course है | यह कोर्स मशीनों की दुनिया में एक अदभुत  कोर्स है|

Mechanical Engineering Kya Hai – What Is Mechanical Engineering In Hindi

Mechanical Engineering Kya Hai Mechanical Engineer Kaise Baneमैकेनिकल इंजीनियरिंग एक ऐसा डिप्लोमा है जिसमें मशीनों से जुड़े सभी कामो को सिखाया तथा उनके बारे में सभी जानकारियां दी जाती हैं| जैसे मशीन कैसे जयदा काम कर सकती है। मशीनो के टूल्स के बारे में सभी जानकारी दी जाती है। जैसे किसी भी कंपनी में प्लांट के ऑपरेशन्स में प्रोडक्शन ऑपरेट करने के लिए मेन्टेन्स करने के लिए एक इंजीनियर की आवश्यकता पड़ती है| उसी को मैकेनिकल इंजीनियर कहते हैं|

किसी भी कंपनी का मेंटेनेंस डिपार्टमेंट व  प्रोडक्शन डिपार्टमेंट मैकेनिकल इंजीनियर ही  देखता है| बहुत सी चीजें ऐसी हैं जो हम अपने रोज की लाइफ में यूज करते हैं वह चीजें मैकेनिकल इंजीनियर के द्वारा ही डिजाइन की जाती है| जैसे -Computer,  auto mobile, Medical device, Robots आदि |

हमारी जिंदगी को बेहतर बनाने अच्छा बनाने के लिए इन सब चीज़ो की आवश्यता पड़ती है | इस कोर्स के माध्यम से आपको टेक्निकल एरिया की भी जानकारी दी जाती है जैसे जनरेटर के माध्यम से इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन, ट्रांसफार्मरस, डिजाइनिंग, ऑटोमोबाइल, तथा बहुत से हैवी वहीकल भी शामिल है| आज के टाइम में मैकेनिकल इंजीनियर की काफी डिमांड है |आप इसके यह कोर्स करके भारत में ही नहीं बल्कि विदेश में भी नौकरी कर सकते हैं|

Mechanical Engineering Kaise Kare – How To Do Mechanical Engineering In Hindi

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के कई तरीके हैं सबसे पहले तो आपको यह चयन करना है कि आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग दसवीं के बाद करनी है या फिर 12वीं के क्योंकि आप 10वी तथा 12वी इन दोनों के पश्चात ही मैकेनिकल इंजीनियर बन सकते हैं,

परंतु इसके लिए आपको अलग-अलग कोर्स करने होते हैं यदि आप 10वी कक्षा के पश्चात मैकेनिकल इंजीनियर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आप Diploma In Mechanical Engineering कर सकते हैं और यदि आप 12वी कक्षा के पश्चात मैकेनिकल इंजीनियर बदल जाते हैं तो फिर आप 12वीं कक्षा के पश्चात Bachelor Of Engineering कर सकते हैं आगे हम आपको Eligibility For Mechanical Engineering विस्तार से बताते हैं।

Mechanical Engineering Ke Liye Yogyata – Eligibility Criteria for Mechanical Engineering In Hindi

After 10th –

10th कक्षा में आपको 55 % से ज्यादा मार्क्स लाने होंगे| यदि आप mechanical diploma को दसवीं कक्षा के बाद करते हैं तो आपको 3 साल का डिप्लोमा करना होगा| परंतु इस डिप्लोमा को करने के लिए भी आपके पास दो अलग-अलग तरह के विकल्प होते हैं, और वह है प्राइवेट कॉलेज और सरकारी कॉलेज / प्राइवेट कॉलेज में तो आपको डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है, परंतु सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको लिखित परीक्षा पास करनी होती है और उसके पश्चात आपकी काउंसलिंग होती है, और काउंसलिंग के दौरान आपको अपने नजदीकी किसी भी शहर का सरकारी कॉलेज का चयन करना होता है जिसमें से भी आप मैकेनिकल डिप्लोमा करना चाहते हैं।

After 12th-

बारहवीं कक्षा के बाद अगर आप मैकेनिकल डिप्लोमा करना चाहते हैं तो 12th कक्षा  आपकी मेडिकल या नॉन मेडिकल में पास होना चाहिए| मैकेनिकल डिप्लोमा करने के बाद आप  Tech कर सकते हैं तथा बीटेक के बाद आप अच्छी नौकरी भी पा सकते हैं| परंतु बीटेक कोर्स करने के लिए भी आपके पास दो तरह के ऑप्शन होते हैं जैसे कि डिप्लोमा में होते हैं आप सरकारी कॉलेज तथा प्राइवेट कॉलेज इन दोनों में से ही इस पोस्ट को कर सकते हैं।

परंतु सरकारी कॉलेज में इस कोर्स की फीस बहुत कम होती है और प्राइवेट कॉलेज में ज्यादा होती है परंतु ज्यादा से ज्यादा व्यक्ति सिर्फ सरकारी कॉलेज की तरह से ध्यान देते हैं, क्योंकि सरकारी कॉलेज से यह कोर्स करने के पश्चात आपको ज्यादा मान्यता दी जाती है, और आपको नौकरी भी काफी जल्दी मिलती है, क्योंकि ज्यादातर सरकारी कॉलेज में बड़ी-बड़ी कंपनियां खुद ही आती हैं और छात्रों को नौकरी के अवसर प्रदान करती हैं।

हम आपको बता दें की यदि आप इंजीनियरिंग की ज्यादा नॉलेज लेना चाहते हैं तो आप डिप्लोमा करने के पश्चात बीटेक कर सकते हैं, वैसे तो यदि आप बारहवीं कक्षा के पश्चात बीटेक करते हैं, तो आपको 4 साल की पढ़ाई करनी होती है परंतु यदि आप डिप्लोमा के बाद बीटेक करते हैं, तो आपको सिर्फ 3 साल की बी टेक और आपको नॉलेज भी बहुत ज्यादा हो जाएगी जिसके कारण आप आसानी से कहीं पर भी नौकरी हासिल कर सकते हैं।

Mechanical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai

यदि हम बात करें कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग की फीस कितनी होती है, तो हम आपको बता दें की मैकेनिकल इंजीनियरिंग की फीस कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है, कि कॉलेज किस प्रकार की सुविधाएं आपको दे रहा है और कॉलेज सरकारी है या फिर प्राइवेट क्योंकि सरकारी कॉलेज में है, सुविधाएं आपको ज्यादा मिलती है और फीस कम होती है परंतु प्राइवेट कॉलेज में आपको सुविधाएं बहुत कम मिलती हैं और फीस ज्यादा होती है।

यदि आप किसी प्राइवेट कॉलेज से Diploma In Mechanical Engineering करते हैं, तो आपको ₹35000 से लेकर ₹50000 तक फीस देनी पड़ सकती है, और यदि आप किसी सरकारी कॉलेज से यह कोर्स करते हैं तो आपको ₹10000 से लेकर ₹15000 तक फीस देनी पड़ सकते हैं।

Mechanical Engineering Ke Baad  Kya Kare – What To Do After Mechanical Engineering In Hindi

यदि आप सोच रहे हैं कि मेकेनिकल इंजीनियरिंग के बाद हम क्या कर सकते हैं तो हम आपको बता दें की मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद अलग-अलग ऑप्शन होते हैं, जैसे कि यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करते हैं तो आप इसके पश्चात यदि नौकरी करना चाहते हैं, तो नौकरी भी कर सकते हैं इसके अतिरिक्त इसके पश्चात सरकारी नौकरी की तैयारी भी कर सकते हैं और यदि आप आगे बढ़ना चाहते हैं, तो आप इसके पश्चात बीटेक भी कर सकते हैं और बीटेक के पश्चात एमटेक भी कर सकते हैं।

और यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करते हैं मतलब की बीटेक करते हैं, तो इसके पश्चात भी आप नौकरी आसानी से कर सकते हैं और यदि नौकरी नहीं करना चाहते तो आप आगे पढ़ भी सकते हैं, मतलब कि एमटेक कर सकते हैं और इसके अतिरिक्त आप सरकारी नौकरी तैयारी भी कर सकते हैं, क्योंकि बीटेक करने के पश्चात आपके लिए विभिन्न प्रकार के सरकारी नौकरियों के अवसर खुल जाते हैं।

Diploma mechanical engineering Admission process In Hindi

मैकेनिकल इंजीनियर में एडमिशन लेने के लिए आपके 10th बोर्ड एग्जाम पर निर्भर करता है कि आपकी परसेंटेज कितनी है 10वी कक्षा में तथा परफॉर्मेंस आपकी कैसी रही है 10th  बोर्ड एग्जाम में |

1)  कुछ इंस्टिट्यूट तथा कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम गवर्नमेंट गाइडलाइन्स को ध्यान में रखकर लिए जाते हैं|

2)  सभी कॉलेज का एंट्रेंस एग्जाम के लिए अपना अलग-अलग एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया होता है|

3)  छात्रों को मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एडमिशन लेने के लिए क्वालीफाई मार्क्स लाने होते हैं|

4)  जो छात्र मैकेनिकल इंजीनियरिंग के लिए टेस्ट पास करते है,उनका नंबर मैट्रिक लिस्ट  के आधार पर आता है|

5) फाइनल एडमिशन process बाद छात्र को   फीस सबमिट करनी होती है और खुद को रजिस्टर करवाना होता है|

Syllabus for mechanical engineering

1) chemistry Science

2) Mathematics

3) Drawing Biology

4) Mechanics Electronics

5) Machine drawing Mechanics

6) Thermodynamics Science

7) Manufacturing Mechanics

8) Machine design measurements

College list of Diploma Mechanical engineering Government college

1)Indian institute of Bombay

2) Indian institute of delhi

3) Indian institute of kanpur

4) Indian institute of Madras

5) Indian institute of Roorkee

6) Indian institute of Guwahati

College list of Diploma Mechanical engineering Private college

1) Birla institute of technology एंड science

2) Thapar university

3) SRM University

4) Manipal university

5) Vellor institite of technology

Merit base exam college For mechanical engineering

1) Chandigarh university

2) Lovely professional university

3) School of engineering And technology, vihar

4)Dev bhoomi institute Of technology

Entrance exam base college for mechanical engineering

1) Chandigarh university

2) Veermata Jijabai Technological Institute

3) Ganga group of institutions Ganga technical Campus

Government Exam list for Mechanical engineering

मैकेनिकल डिप्लोमा करने के बाद आप प्राइवेट कंपनी में ही नहीं बल्कि सरकारी कंपनियों में भी जॉब कर सकते हैं| कुछ एग्जाम की लिस्ट हम आपको देंगे जिनको पास करकर आप मैकेनिकल कोर्स कर सकते हैं|

1) Jharkhand public service commission

2) Staff Selection commission

3) Hindustan Shipyard

4) Railway recruitment controls board

5) Defense research and development Organization

6) National technical Researcher Commission

7) Kerala polytechnic College Admission test

8) Odissa diploma Entrance test

Mechanical Engineer Ki Salary Kitni Hoti Hai – Sallary description after doing Mechanical engineering course

आप जब भी मैकेनिकल इंजीनियरिंग को करने के बारे में सोचते होंगे तो आप यह जरुर सोचते होंगे कि यदि हम इसको तो करते हैं, तो हमें कितनी सैलरी मिल सकती हैं, तो सबसे पहली बात तो हम आपको बता देंगे की कोर्स चाहे आप कोई भी कर ले सैलरी हमेशा आपके ऊपर निर्भर करती है कि आप किस प्रकार से उसको उसको करते हैं और उसको उस में बताई गई चीजों को समझते हैं क्योंकि मेकेनिकल इंजीनियरिंग एक ऐसा कोर्स है, जिसमें आपको ज्यादा से ज्यादा सीखने की जरूरत होती है, और इसीलिए कॉलेज में आपके प्रैक्टिकल भी होते हैं जिनमें आपको बताया जाता है कि आपको कोर्स खत्म होने के पश्चात किस तरह कंपनी में काम करना है।

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करते हैं, तो आपको ₹12000 से लेकर ₹15000 की नौकरी शुरुआत में मिल सकती है, इसके अतिरिक्त यदि आपको कोई अच्छी कंपनी सिलेक्ट कर लेती है तो आपको ₹20000 महीना की सैलरी भी आसानी से मिल सकती है, इस कोर्स को करने के बाद आपका एक और फायदा है और वह है कि आप सरकारी नौकरी की तैयारी भी आसानी से कर सकते हैं, क्योंकि वह से सरकारी कंपनियां ऐसी हैं जो मैकेनिकल डिप्लोमा किए हुए छात्रों को रखती हैं।

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करते हैं मतलब की बीटेक करते हैं तो आपको शुरुआत में ₹18000 से लेकर ₹25000 तक की नौकरी मिल सकती है, परंतु यदि आपको अच्छी नॉलेज है और आपको किसी अच्छी कंपनी में भी नौकरी मिल जाती है तो आपको शुरुआत में ₹35000 की नौकरी भी बड़ी आसानी से मिल सकती है, और उसके साथ-साथ आप सरकारी नौकरियों की तैयारी भी कर सकते हैं, क्योंकि बीटेक करने के पश्चात आपके सामने सरकारी नौकरी के भी बहुत अवसर है बस आपके अंदर मेहनत और लगन होनी चाहिए फिर सब कुछ मुमकिन है।

Conclusion –

हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी है पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग के बारे में विस्तार से बताया है कि Mechanical Engineering Kaise Kare तथा Mechanical Engineer Banne Ke Liye Qualification और Mechanical Engineer Ki Salary Kitni Hoti Hai? Job Option After Mechanical Engineering In Hindi? Mechanical Engineering Ki Fees Kitni Hoti Hai? और इसके साथ-साथ हमें आपको यह भी बताया है कि Mechanical Engineering Ke Baad Kya Kare यदि आप भी आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग के विषय में कोई भी प्रश्न हम से पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन के माध्यम से पूछ सकते हैं हम आपको उसका जवाब जरूर देंगे।

इन कोर्स के बारे मे भी पढे :-

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button