BAMS क्या है | बीएएमएस कोर्स कैसे करे

जीवन में अगर आप कुछ बनना चाहते हैं तो आपको जो भी आप बनना चाहते हैं उसकी संपूर्ण प्रक्रिया के बारे में पता होना चाहिए जैसे कोई अपनी जिंदगी में अध्यापक बनना चाहता है कोई डॉक्टर बनना चाहता है और कोई लेखक बनना चाहता है तो जिस भी लक्ष्य को आप आना चाहते हैं आपको पता होना चाहिए कि लक्ष्य को पाने के लिए आपको कौन कौन सी प्रक्रिया से गुजरना होगा इस लेख के माध्यम से आज हम बहुत ही खास टॉपिक पर बात करने वाले हैं आज हम आपको बताने वाले हैं कि –

  • BAMS Kya Hai
  • BAMS Kaise Kare
  • BAMS Karne Ke Fayde
  • BAMS Ke Liye Qualification
  • BAMS Ki Fees
  • BAMS Syllabus In Hindi

 यदि आपका इस टॉपिक से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो हमें यकीन है इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद इस टॉपिक से संबंधित आपका कोई भी प्रश्न ऐसा नहीं होगा जिसका उत्तर आपको ना मिले इसीलिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ना l

 आज हम बहुत ही बेहतरीन आर्टिकल आपके लिए लेकर आए हैं। आयुर्वेद की दुनिया की सभी Therapy System में से एक BAMS हैं। इस Therapy के माध्यम से ना सिर्फ बीमारी को ठीक किया जाता है, अपितु बीमारी को भी बिल्कुल जड़ से खत्म कर दिया जाता है। आयुर्वेद में शिक्षा हासिल करने के लिए BAMS Course अवश्य करना होता है। क्या आप भी Ayurvedic Doctor बनना चाहते है?… यदि बनना चाहते हैं तो आपको इसके लिए पहले BAMS Degree Program को करना होगा।

आपको पता ही है कि यदि आपको कोई भी कोर्स करना है। तो आपको पहले उसके बारे में संपूर्ण जानकारी होनी चाहिए। तभी आप वह कोर्स कर सकते हैं। इसीलिए आज हम आपको इसी के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे, ताकि यदि आप भी है कोर्स करना चाहते हैं। तो हमारी पोस्ट के द्वारा आपका भला हो सके तो चलिए शुरू करते हैं :-

BAMS Kya Hai | Career In BAMS

BAMS Kya Hai BAMS Kaise Kare Difference Between BAMS and BHMS In Hindiआपको बता दें, कि BAMS की फुल फॉर्म  “Bachelor Of Ayurvedic Medicine And Surgery” होती है। BAMS Ayurvedic Certified Course होता है, जो की आयुर्वेदिक Medical College के लिए दी जाने वाली अंडर ग्रेजुएट डिग्री है। हमारे देश में इस Course को Central Council Of Indian Medicine के माध्यम से मान्यता दी जाती है।

बहुत से Medical College आते हैं जहां पर आप BAMS में Admission ले सकते है। Bams Course 5 साल के महीने का कोर्स होता है। Bams आयुर्वेद Certified Course है, जो आयुर्वेदिक मेडिकल विद्यालय के लिए दी जाने वाली Undergraduate Degree है। देश में इस कोर्स को Central Council Of Indian Medicine के द्वारा मान्यता दी जाती है।

आप बहुत से Medical College से BAMS में Admission ले सकते है। BAMS Course में Ayurvedic के साथ ही आधुनिक दवाइयों की शिक्षा भी सम्मिलित होती है। Indian Education System में BAMS की Degree बहुत मुख्य स्थान रखती है। इस डिग्री में सभी छात्रों को Natural Herbs के द्वारा इलाज ( Treatment ) करना सिखाया जाता है।

BAMS Ke Bare Me Jankari तो आपको मिल ही गई, परंतु आप BAMS Course Ke Fayde से तो परिचित ही होंगे। यह एक High Level का Course होता है, तो इससे होने वाले फायदे भी बहुत ही बेहतरीन होते है।

BAMS Karne Ke Fayde | Benifits Of BAMS in Hindi

अगर आप यह कोर्स करते हैं, तो आपको इसके बहुत सारे फायदे मिलते हैं। चलिए हम विस्तार से जानते हैं BAMS Course Ke Fayde :-

  • जब आप BAMS Course करके Ayurvedic Doctor बन जाते हैं। तो उसके पश्चात आपको बहुत ही अच्छी Salary Provide कराई जाती है। जो की 40,000 से 50,000 रुपए तक हो सकती है।
  • यदि आप यह कोर्स करने के पश्चात नौकरी नहीं करना चाहते तो आप अपना खुद का Ayurvedic Medical भी खोल सकते है।
  • यदि आप किसी Clinic में नौकरी करना चाहते हैं तो आप वहां पर भी Junior Doctor की तरह काम कर सकते है।
  • BAMS एक ऐसा क्षेत्र होता है, जिसमें Research का भी काम बहुत ज्यादा होता है, इसलिए BAMS Course करके आप Research से भी जुड़ सकते है।
  • यदि आप यह कोर्स करके आयुर्वेदिक डॉक्टर बन जाते है, तो फिर इससे आपकी Life Style भी पूरी तरह बदल जाती है और अपने आसपास की Society में भी आपको एक अलग ही पहचान मिल जाती है।
  • ऐसे और भी बहुत फायदे है जो BAMS Course करने के पश्चात आपको Ayurvedic Doctor बनने पर मिलते है।

अब आपको BAMS ke Fayde अच्छे से समझ आ गए होंगे।

BAMS Kaise Kare

यदि आप यह डिग्री हासिल करना चाहते हैं। तो आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए, तभी आप इस दिल्ली को हासिल कर सकते हैं चलिए पहले हम जानते हैं। BAMS Ke Liye Kya Kare

BAMS Ke Liye Qualification

यदि आप BAMS Course करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें। कि आप कम से कम 12वीं कक्षा पास होने चाहिए। और बारहवीं कक्षा को Medical Science के सब्जेक्ट से पास करनी होती है, और 12वीं कक्षा में कम से कम आपके अंक 50% होने बहुत आवश्यक है। तथा BAMS Course करने के लिए आपकी आयु 17 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। परंतु कुछ जातियां ऐसी हैं, जिन्हें आयु में छूट दे दी जाती है। जैसे कि SC/ST तथा OBC जाति को 3 साल की छूट आयु में दे दी जाती है।

BAMS Admission Procedure

BAMS में दाखिला लेने के लिए आपको इसकी कुछ मुख्य परीक्षाओं में सफल होना आवश्यक है। जैसे कि इसमें All India Entrance Exam के अतिरिक्त भी State Level पर बहुत सी प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जाती है।

BAMS के एंट्रेंस एग्जाम का Syllabus 12वीं कक्षा पर आधारित होता है। इसके लिए कुछ प्रमुख Enterence Exam इस प्रकार है :-

  • National Institute Of Ayurved Entrance Exam
  • Uttarakhand Pg Medical Entrance Exam
  • Kerala State Entrance Exam
  • Common Entrance Test (Cet), Karnataka

Ayush Entrance Exam

यदि आप इनमें से कोई भी एग्जाम पास कर लेते हैं तो उसके पश्चात ही आप BAMS Course को कर सकते है।

BAMS Ki Fees Kitni Hoti Hai

यदि आप इस कोड को करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके मन में यह सवाल अवश्य आता है कि BAMS Course Ki Fees कितनी होती है तो हम आपको बता दें की यदि आप यह कोर्स प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो आप की 1 साल की फीस ₹70000 से लेकर ₹80000 के बीच में हो सकती है

इसके अतिरिक्त यदि आप यह को सरकारी कॉलेज से करते हैं। तो आपकी फीस बहुत कम लगती है, बस आपको प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है, और प्रवेश परीक्षा के हिसाब से यह आपको Medical Collage भी मिल जाता है।

BAMS Ki Taiyari Kaise Kare

यदि आप इस कोर्स को करने के लिए Enterence Exam को पास करना चाहते हैं। तो आप किसी अच्छे Coaching Centre से भी इस परीक्षा को पास करने के लिए कोचिंग ले सकते हैं, क्योंकि कोचिंग सेंटर वालों को अच्छे से पता होता है। कि परीक्षा में आपसे किस हिसाब से प्रश्न पूछे जाते हैं। इसीलिए आप कोचिंग सेंटर की मदद से आसानी से यह परीक्षा पास कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त यदि आप किसी कोचिंग सेंटर से सहायता नहीं लेना चाहते। तो आप खुद भी इसकी तैयारी कर सकते हैं। और इसकी तैयारी करने के लिए आप किसी भी नजदीकी बुक डिपो से वो खरीद सकते हैं। फिर आप इसकी अच्छी तैयारी कर सकते हैं।

BAMS की परीक्षा को पास करने के लिए आप Internet की सहायता भी ले सकते हैं। जैसा कि आपको पता ही है कि आज के समय में टेक्नोलॉजी बहुत ज्यादा बढ़ चुकी है। जिसके कारण आपको इंटरनेट पर सब कुछ मिल जाता है, आपको इंटरनेट पर हर एक Study Material मिल जाता है। जिसकी सहायता से आप अपनी अच्छी से अच्छी तैयारी कर सकते हैं, और इस परीक्षा को पास कर सकते हैं।

सबसे जरूरी तो यह है कि आपको एक Time Table तो अवश्य बनाना चाहिए। क्योंकि समय सारणी के बिना तैयारी करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है यदि आप समय सारणी बना लेते हैं। तो आपको पता रहेगा कितने बजे आपको कौन सा सब्जेक्ट पढ़ना है, फिर आपकी तैयारी और भी ज्यादा पुख्ता हो जाती है।

BAMS Ke Bad Kya Kare | What To Do After BAMS in Hindi

यदि आप यह कोर्स करना चाहते हैं, तो आपके मन में यह सवाल जरूर आता है। कि इस कोर्स को करने के बाद हम क्या कर सकते हैं। हमें नौकरी मिलेगी भी या नहीं मिलेगी यदि हम आगे पढ़ना चाहते हैं, तो क्या पढ़ सकते हैं यह आप अक्सर सोचते होंगे, परंतु आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है हम आपको बता देते हैं कि BAMS Ke Baad Kya Kare.

  • Therapist
  • Product Manager
  • Medical Representative
  • Work in Nursing Home
  • Dispensaries
  • Research Institutes
  • On Duty Doctor
  • Work In Healthcare Community
  • Area Sales Manager
  • Sales Representative
  • Category Manager
  • Pharmacist
  • Lecturer

यह सब क्षेत्र हैं, जहां पर आप BAMS Course करने के पश्चात कार्य कर सकते हैं। आप अपनी रुचि के हिसाब से कोई भी क्षेत्र चुन सकते हैं।

BAMS Doctor Ki Salary Kitni Hoti Hai

यदि आप यह कोर्स करने की सोच रहे हैं या फिर कर रहे हैं। तो आपके मन में यह बात जरूर आती है, कि BAMS Doctor Salary कितनी होती हैं तो हम आपको बता दें, कि यह कोर्स करने के पश्चात आपको शुरुआत में ₹40000 से ₹50000 तक की नौकरी आसानी से मिल जाती है। इसके अतिरिक्त यदि कुछ अनुभव के पश्चात आप अपना खुद का Clinic खोलते हैं। तो फिर आप लाखों रुपए महीना भी आसानी से कमा सकते हैं, परंतु सबकुछ आपके ऊपर निर्भर करता है

BHMS Kya Hota Hai

BHMS Ki Full Form होती है:- “Bachelor Of Homeopathy Medicine And Surgery

यह Homeopathic में दी जाने वाली एक Undergraduate Degree है। इस डिग्री में आपको Homeopathic Method के चिकित्सा का ज्ञान दिया जाता है। BHMS की Degree को पूरी करने के पश्चात आप एक Homeopathic चिकित्सक के लिए योग्य हो जाते है। यह Course भी 5 साल का ही होता है।

बहुत से Medical College ऐसे हैं, जो इस Course में डायरेक्ट ही दाखिला देते है। होम्योपैथिक एक तरह का Alternative Medical System है। होम्योपैथिक चिकित्सा में Natural Healing Power को अक्सर बढ़ावा दिया जाता है। इसमें Graduation के पश्चात Student Post Graduation भी अपनी इच्छा के अनुसार कर सकते है।

BHMS Course Kaise Kare

यदि आप होम्योपैथिक में डिग्री हासिल करना चाहते हैं, तो आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए। तभी आप “Bachelor Of Homeopathic Medicine and Surgery” कोर्स कर सकते हैं

Qualification For BHMS

 यदि आप ही हैं कोर्स करना चाहते हैं तो आपकी योग्यता कम से कम 12वीं होनी चाहिए। और बारहवीं कक्षा आपको Biology से पास करनी होती है, और 12वीं कक्षा में कम से कम आपके 50% अंक होने बहुत आवश्यक है।

12वीं कक्षा के पश्चात आपको यह कोर्स करने के लिए Enterence Exam पास करना होता है। जिसकी सभी डिटेल आपको Internet के माध्यम से मिल जाएगी।

BHMS Ki Fees Kitni Hoti Hai

यदि आप इस कोर्स को करना चाहते हैं, तो आपके मन में यह सवाल और चाहता है कि इसकी फीस कितनी होती होगी। तो हम आपको बता दें, कि यदि आप यह कोर्स करना चाहते हैं, तो आपकी 1 साल की फीस ₹2 लाख से ₹3 लाख तक हो सकती है।

Difference Between Bams And Bhms In Hindi

Ayurved एक बहुत ही पुराना विज्ञान है। BAMS में आपको वात, पित्त, कफ़ आदि के ऊपर आधारित शिक्षा प्रदान की जाती है। BHMS में Homeopathic इलाज किया जाता है, इसीलिए यह इसी से संबंधित रोगियों के इलाज के आधार पर होता है।

Homeopathic दवाइयां औषधि तथा Minerals, Plants के उपयोग से बनाया जाता है। Ayurvedic method में औषधि को सभी प्राकृतिक चीजों के इस्तेमाल से बनाया जाता है है।

BAMS और MBBS में मुख्यतः कुछ तरह के अंतर पाये जाते है जो कि हम आपको नीचे बता रहे है।

  • Mbbs Allopathy की डिग्री एक तरह की Medical Degree होती है। BAMS आयुर्वेद में मेडिकल की एक आयुर्वेदिक डिग्री होती है।
  • Allopathy इलाज में बीमारियों को कुछ हद तक कम किया जा सकता है, परंतु जड़ से बिल्कुल भी खत्म नहीं किया जा सकता है। आयुर्वेदिक दवाइयों से ज्यादातर बीमारियों को जड़ से तो खत्म किया जा सकता है, लेकिन उनमें खत्म होने में बहुत ही ज्यादा समय लगता है।

Conclusion –

हम आशा करते हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी। हमने आपको इस पोस्ट के माध्यम से बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी दी है। यह जानकारी आपके लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक सिद्ध होगी यदि आप भी डॉक्टर बनना चाहते हैं। आज हमारी इस पोस्ट के माध्यम से आप ने जाना कि

  • BAMS Kya Hai
  • BAMS Kaise Kare
  • BAMS Karne Ke Fayde
  • BAMS Ke Liye Qualification
  • BAMS Ki Fees
और भी विभिन्न प्रकार के जानकारी के लिए इन पोस्ट को भी पढे :– 
5/5 - (38 votes)

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button