DGP Kya Hota Hai DGP Kaise Bane

हम DGP के बारे में बात करेंगे और आपको बताएंगे कि DGP Kya Hota Hai, DGP Kaise Bane, How To Become DGP In Hindi, DGP Banne Ke Liye Qualification, Eligibility For DGP In Hindi, DGP Ki Salary, Full Form Of DGP यदि आप इन सभी सवालों के जवाब जानना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को आखिर तक अवश्य है पड़ेगा तभी आप अच्छे से समझ पाएंगे कि DGP Kaise Bane.

डीजीपी का पद पुलिस डिपार्टमेंट में सबसे बड़ा पाद होता है, जिस व्यक्ति ने IPS की परीक्षा पास की हो वही व्यक्ति डीजीपी के पद पर बैठ सकता है, क्योंकि डीजीपी का पद बहुत ही जिम्मेदारी वाला पद होता है, हर एक व्यक्ति का अपने जीवन में कुछ बनने का सपना होता है,

कोई व्यक्ति इंजीनियर बनना चाहता है, तो कोई व्यक्ति भारतीय सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहता है ऐसे ही कुछ व्यक्ति होते हैं, जो कि पुलिस डिपार्टमेंट में भर्ती होकर अपने देश की सेवा करना चाहते हैं, ऐसे लोग अक्सर यह चाहते हैं कि हमें पुलिस डिपार्टमेंट में एक बड़ा पद मिल जाए, ताकि हम देश में सुधार कर सकें, चलिए अब हम जानते हैं, की DGP क्या होता है.

DGP Kya Hota Hai ( What Is DGP In Hindi )

DGP Kya Hota Hai DGP Kaise BaneDGP का पद पुलिस विभाग में सबसे बड़ा पद होता है, DGP केवल उसी व्यक्ति को बनाया जाता है जिस व्यक्ति ने IPS की परीक्षा पास की हो,

DGP Ki Full Form होती है Director General Of Police, हिंदी भाषा में डीजीपी को “पुलिस महानिदेशक” भी कहा जाता है,

DGP के पद का चुनाव भारतीय पुलिस सेवा मतलब की IPS की परीक्षा के माध्यम से ही किया जाता है, डी जे पी के पद पर बैठे व्यक्ति को बहुत सारे सम्मान के साथ-साथ एक अच्छी सैलरी भी मिलती है

पुलिस विभाग में एक डीजीपी ही एक ऐसा व्यक्ति होता है, जो अपने अधिकारों का सही उपयोग करके अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था को ठीक ढंग से बनाए रखता है, यदि राज्य में किसी भी प्रकार का कोई अन्याय हो रहा है, तो डीजीपी अन्याय को रोकने में पूर्ण रूप से सक्षम होता है

हम आपको एक मुख्य बात बता दें, कि एक DGP को पुलिस विभाग में एक इतना दर्जा दिया जाता है, जितना कि किसी कैबिनेट मंत्री का दर्जा होता है, भारत के हर एक राज्य में डीजीपी की नियुक्ति की जाती है, और डीजीपी पूरे पुलिस डिपार्टमेंट का हेड होता है.

DGP Kaise Bane? DGP Banne Ka Sahi Tarika

DGP (Director general of police) का पद इतना बड़ा पद होता है, कि इसे प्राप्त करने के लिए व्यक्ति को बहुत परिश्रम करना पड़ता है। IPS के एग्जाम में शामिल होने वाले उम्मीदवार का चयन डीजीपी के पद के लिए किया जाता है।

उस व्यक्ति की काबिलियत को देखते हुए, भारत सरकार के द्वारा उन्हें यह सम्मान से भरा हुआ पद प्राप्त होता है। परंतु इसके लिए एक उम्मीदवार को बहुत लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है।

शुरुआत में IPS का पद हासिल करने वाले व्यक्ति को DSP के पद पर नियुक्त किया जाता है। फिर उस अधिकारी को AASP बनाया जाता है। फिर उनका चयन SP और SSP पद के लिए किया जाता है।

इन सब प्रोसेस के पश्चात उस अधिकारी को DIGP का पद और फिर IGP पद प्राप्त होता है। फिर उसके पश्चात सबसे आखिर में ठीक ढंग से उस व्यक्ति की काबिलियत को देखते हुए अधिकारी को के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है परंतु यहां तक पहुंचने के लिए आपको बहुत अधिक मेहनत करनी होती है, यहां तक पहुंचना हर किसी के बस की बात नहीं है।

बहुत से लोग जो कि डीजीपी बनना चाहते हैं, वह अक्सर सोचते होंगे की DGP Banne Ke Liye Qualification कितनी चाहिए, तो अब हम आगे वही जानेंगे.

DGP Banne Ke Liye Yogyata? Qualification For DGP In Hindi

यदि बचपन से ही आपका सपना है कि आपको अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद डीजीपी के पद पर नियुक्त होना है तो हम आपको बता दें कि सबसे पहले आपको 12वी कक्षा पास करनी होती है, और 12वीं कक्षा आप किसी भी सब्जेक्ट से पास कर सकते हैं, परंतु आपके अंक कर कम से कम 55% होना बहुत आवश्यक है नहीं तो आपको परेशानी हो सकती है आवेदन करने में

इसके पश्चात आपको किसी अच्छे मान्यता प्राप्त कॉलेज में से ग्रेजुएशन करनी होती है, और ग्रेजुएशन भी आप किसी भी सब्जेक्ट से कर सकते हैं, परंतु ग्रेजुएशन में भी आपके अंक कम से कम 55% होना बहुत आवश्यक है

जब आप ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल कर लें तो उसके पश्चात आपको IPS की परीक्षा को पास करना होता है, IPS की परीक्षा प्रत्येक वर्ष UPSC के द्वारा आयोजित कराई जाती है

UPSC की परीक्षा की सभी जानकारी आपको इंटरनेट के माध्यम से मिल जाएगी, इसके अतिरिक्त आप अपने नजदीकी किसी भी कंप्यूटर कैफे से UPSC की परीक्षा की सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

परंतु एक मुख्य बात हम आपको बता दें कि IPS की परीक्षा प्रत्येक वर्ष 10 लाख उम्मीदवार देते हैं, परंतु IPS की परीक्षा में केवल 300-

400 उम्मीदवार ही पास हो पाते हैं क्योंकि यह परीक्षा बहुत ही ज्यादा कठिन होती है, और कंपटीशन अधिक होने के कारण आपको इस परीक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने होते हैं, तभी जाकर आपकी सिलेक्शन हो सकती हैं.

Age For DGP Exam

यदि आप डीजीपी बनने के लिए आईपीएस की परीक्षा देना चाहते हैं तो सरकार के द्वारा कुछ आयु निर्धारित की गई है आपकी आयु भी उसी हिसाब से होनी चाहिए तभी आप आवेदन दे सकते हैं

यदि आप सामान्य वर्ग से हैं तो आपकी उम्र 21 वर्ष से 30 वर्ष के बीच में होनी चाहिए, इसके अतिरिक्त यदि आप ओबीसी जाति से हैं, तो आपको 3 साल की छूट उम्र में दे दी जाती है

यदि आप sc-st जाति के उम्मीदवार हैं, तो आपको आयु में 5 वर्ष की छूट दे दी जाती है, मतलब कि आप 35 वर्ष की आयु तक इस परीक्षा में बैठ सकते हैं.

Exam For DGP? DGP Banne Ke Liye Konsa Exam De

हम आपको एक मुख्य बात बता दें कि आप सीधे ही DGP नहीं बन सकते, DGP बनने के लिए पहले आप को UPSC के द्वारा आयोजित की गई परीक्षा को पास करना होता है उसके पश्चात आप IPS अधिकारी बनते हैं

IPS अधिकारी बनकर आपको कुछ समय कार्य करना होता है, उसके पश्चात ही धीरे-धीरे आपकी Promotion होती है, और फिर आप DGP के पद तक पहुंच पाते हैं, DGP आप यूं ही नहीं बन जाते, आपके अंदर डीजीपी बनने के लिए क्वालिटी भी होनी बहुत आवश्यक है, जो कि एक डीजीपी के अंदर होनी चाहिए.

DGP Kya Karta Hai? Work Of DGP In Hindi

जिस राज्य में सरकार के द्वारा डीजीपी की नियुक्ति की जाती है उस राज्य की शांति व्यवस्था को बनाए रखने की जिम्मेदारी DGP की होती है

यदि ही राज्य सरकार के द्वारा कोई नया कानून लागू करने का आदेश आया है, तो उस कानून को अपने पूरे राज्य में सुचारू रूप से लागू करवाने का कार्य DGP का होता है।

पूरा पुलिस डिपार्टमेंट डीजीपी के अधीन होता है, यदि पुलिस डिपार्टमेंट में किसी भी व्यक्ति से कोई गलती होती है, या फिर कोई गलत काम करते पकड़ा जाता है, तो उस व्यक्ति को डीजीपी के द्वारा कभी भी निष्कासित किया जा सकता है।

यदि कभी भी कोई ऐसी सिचुएशन पैदा हो गई है जिस पर नियंत्रण पाना मुश्किल हो गया है, तो डीजीपी उस पर नियंत्रण पाने के लिए अपने अधिकारों का उपयोग करते हुए अपनी मर्जी से कोई भी निर्णय ले सकता है, जोकि देश के हित में हो।

पूरे पुलिस डिपार्टमेंट में DGP के आदेश के बिना कुछ नहीं होता, पुलिस अधिकारी डीजीपी से सलाह लिए बिना कुछ भी महत्वपूर्ण कार्य नहीं कर सकते।

DGP Ki Salary? Salary Of DGP

एक DGP की सैलरी शुरुआत में 68000 तक हो सकती है परंतु यह सैलरी डीजीपी की कार्य क्षमता के अनुसार धीरे-धीरे बढ़ती रहती है और DGP Ki Salary ₹250000 तक भी हो सकती हैं, परंतु डीजीपी के पद पर बैठे व्यक्ति के ऊपर बहुत ही ज्यादा जिम्मेदारी होती है, पूरे राज्य की जिम्मेदारी DGP की होती है यदि राज्य में कुछ भी गलत हो रहा है, तो उसका जवाब DGP को ही देना होता है।

सैलरी के साथ साथ DGP को बहुत ज्यादा Power और सुविधाएं भी दी जाती हैं, डीजीपी के पद पर बैठे व्यक्ति को रहने के लिए घर दिया जाता है, यदि वह सरकार के द्वारा दिए गए घर में नहीं रहना चाहता तो घर का किराया DGP को दिया जाता है, इसके अतिरिक्त अन्य सुविधाएं देती है, जैसे कि बिजली का बिल फ्री होता है, मोबाइल फोन का बिल फ्री होता है, और यदि डीजीपी को अपने परिवार के साथ कहीं पर सफर करना है, तो उसका खर्चा भी सरकार के द्वारा ही उठाया जाता है।

इसके अतिरिक्त यदि DGP कहीं पर भी जाता है, तो उसके साथ में 4 Police Constable होते हैं, DGP की सुरक्षा के लिए इसके अतिरिक्त घर से ऑफिस आने के लिए एक गाड़ी भी सरकार की तरफ से ही दी जाती है।

आशा है कि आप को हमारी इस पोस्ट के माध्यम से पता चल गया होगा कि DGP Kya Hota Hai, DGP Kaise Bane, How To Become DGP In Hindi, DGP Ki Salary, DGP Banne Ke Liye Kya Kare, DGP Banne Ke Liye Qualification, DGP Banne Ke Liye Konsa Exam De यदि अब भी कोई ऐसा प्रश्न है, जो आपके मन में है परंतु उसका जवाब आपको मेरी पोस्ट के माध्यम से ना मिला हो तो वह प्रश्न आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं, हम आपको उसका जवाब अवश्य देंगे।

और भी विभिन्न प्रकार के कैरियर के जानकारी के लिए इन पोस्ट को भी पढे :–

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *